किसान चालीसा सुनाकर रूठे किसानों को मनाएगी एमपी सरकार

2 अगस्त से मध्यप्रदेश के 200 विधानसभा क्षेत्रों में 10 हजार चैपाले लगेंगी। इन चैपालों पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की किसानों के नाम अपील का वीडियो प्रदर्शित किया जायेगा।

किसान चालीसा सुनाकर रूठे किसानों को मनाएगी एमपी सरकार

भोपाल। मध्यप्रदेश में चुनावी सरगर्मियां बढ़ गई हैं। विपक्ष के साथ ही सत्ता पक्ष भी अपनी कमजोर कड़ियों को मजबूत करने में और लोगों की नाराजगी दूर करने में जुटी है। किसानों को साधने के लिए सरकार ने अपनी योजनाओं का गीत तैयार किया है जिसे लेकर सरकार अब चौपाल लगाकर ये गीत हर विधानसभा में सुनाएगी। हनुमान चालीसा की तरह तैयार ये किसान चालीसा सुनाकर किसान वोट बैंक को साधने का काम सरकार करने वाली है।

शाहजहांपुर में प्रधानमंत्री मोदी का वादा, जल्द होगा गन्ना किसानों के बकाया का भुगतान



भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष रणवीर सिंह रावत ने बताया, 2 अगस्त से प्रदेश के 200 विधानसभा क्षेत्रों में 10 हजार चैपाले लगेंगी। इन चैपालों पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की किसानों के नाम अपील का वीडियो प्रदर्शित किया जायेगा। इसके बाद केंद्र व राज्य शासन की किसान हितैषी योजनाओं पर आधारित किसान चालीसा किसानों को सुनवाई जायेगी। किसान चैपाल में मुख्यमंत्री की किसानों के नाम पाती और किसानों के लिये उनसे संबंधित विभागों द्वारा लिये गये निर्णयों की एक पुस्तिका भी किसानों को वितरित की जायेगी।

मध्य प्रदेश में किसानों को पिछले एक साल में दिये गये 35,000 करोड़ रुपए: शिवराज सिंह चौहान

हनुमान चालीसा की तरह तैयार ये किसान चालीसा सुनाकर किसान वोट बैंक को साधने का काम सरकार करने वाली है। बीजेपी के किसान मोर्चा ने इसकी जिम्मेदारी ली है, जो प्रदेश की 200 विधानसभाओं में चौपाल लगाकर किसानों को इसे सुनाने का काम करेगा। दो अगस्त से इस अभियान की शुरूआत की जाएगी, जिसमें एक साथ करीब 10 हजार विधानसभाओं में चौपाल का आयोजन किया जाएगा और इन्ही चौपालों में सरकार की योजनाओं से बनाई गई किसान चालीसा को सुनाया जाएगा। दो अगस्त को सीएम शिवराज के वीडियो संदेश के साथ ही ये चालीसा हर विधानसभा के किसानों को सुनाई जाएगी। इन चौपालों में कार्यकर्ताओं के साथ ही क्षेत्र के विधायक भी वहां मौजूद रहेंगे और सरकार की योजनाओं का प्रचार करेंगे वहीं दूसरी और किसान संघ के अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा उर्फ कक्का जी ने इस अभियान को चालीसा के नाम पर किसान का उपहास बताया।

सुनिए शिवराज सिंह चौहान जी, मध्य प्रदेश के मजदूर कुछ कह रहे हैं...


Share it
Top