मध्‍य प्रदेश: कमलनाथ ने ली मुख्‍यमंत्री पद की शपथ, दिखा एकजुट विपक्ष

कमलनाथ राज्य के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। फिलहाल उन्‍होंने अकेले ही शपथ ली है, मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों का शपथ ग्रहण बाद में होगा।

मध्‍य प्रदेश: कमलनाथ ने ली मुख्‍यमंत्री पद की शपथ, दिखा एकजुट विपक्ष

लखनऊ। मध्‍य प्रदेश में 15 साल बाद सत्ता में लौटी कांग्रेस के लिए आज बड़ा दिन है। कमल नाथ ने आज मध्‍य प्रदेश के मख्‍यमंत्री पद की शपथ ली है। शपथ ग्रहण समारोह भोपाल के जंबूरी मैदान में हुआ। इस समारोह में विपक्षा एकजुट नजर आया।

कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला, कांग्रेस नेता दिग्‍विजय सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार और अन्‍य नेता शामिल हुए हैं। साथ ही राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत, राजस्‍थान के उप मुख्‍यमंत्री सचिन पायलट, कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू, आरजेडी नेता तेजस्‍वी यादव भी शामिल हुए हैं।

कमलनाथ ने राज्य के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। फिलहाल उन्‍होंने अकेले ही शपथ ली है, मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों का शपथ ग्रहण बाद में होगा। कमल नाथ छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र से लगातार नौ बार सांसद चुने गए हैं। 1979 में प्रथम बार छिदवाड़ा से निर्वाचित हुए, उसके बाद लगातार 1984, 1990, 1991, 1998, 1999, 2004, 2009, 2014 में लोकसभा के लिए निर्वाचित होते रहे हैं।

शपथ ग्रहण समारोह से पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कमल नाथ के आवास के बाहर उनका सम्‍मान किया। कार्यकताओं ने उन्‍हें फूल माला पहनाई और शपथ ग्रहण के लिए बधाई दी।

यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कमल नाथ को बधाई दी है। अखिलेश ने ट्वीट किया कि ''कमलनाथ जी को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में हार्दिक बधाई व उनके शपथ ग्रहण समारोह हेतु अनंत शुभकामनाएं। मध्य प्रदेश के बिजावर विधान सभा क्षेत्र से नवनिर्वाचित सपा विधायक राजेश कुमार इस अवसर पर उनके प्रति हमारे समर्थन व शुभकामनाओं का प्रतिनिधित्व करेंगे।''

कांग्रेस को मिली हैं 114 सीटें

प्रदेश में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 114 सीटों पर जीत मिली है। वहीं, बीएसपी के दो, एसपी का एक और चार निर्दलीय सदस्यों ने भी कांग्रेस का समर्थन किया है। इस तरह कांग्रेस के पास बहुमत के आंकड़े 116 से ज्‍यादा कुल 121 सीटे हैं। प्रदेश में कुल 230 सीटें है, इसमें से बीजेपी को 109 सीटों पर जीत मिली है।

इससे पहले राजस्थान में अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री और सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। थपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी मौजूद रहे। वहीं, राजस्‍थान की पूर्व मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे भी मौजूद रहीं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top