महाराष्ट्र में देवेन्द्र फडणवीस ने मांगें मानीं, यशवंत सिन्हा का किसान आंदोलन खत्म 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   7 Dec 2017 4:15 PM GMT

महाराष्ट्र में देवेन्द्र फडणवीस ने मांगें मानीं, यशवंत सिन्हा का किसान आंदोलन खत्म वरिष्ठ भाजपा नेता यशवंत सिन्हा।

अकोला (भाषा)। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के आश्वासन पर किसानों के कई मुद्दों को लेकर विदर्भ के अकोला में भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा (80 वर्ष) ने प्रदर्शन को खत्म कर दिया। मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया है।

विदर्भ में किसानों के प्रति कथित उदासीनता के खिलाफ जिला कलेक्टर कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करने के दौरान यशवंत सिन्हा को सोमवार शाम को हिरासत में ले लिया गया था। पूर्व वित्त मंत्री के विचार वर्तमान भाजपा नेतृत्व से मेल नहीं खाते हैं। किसानों की सभी मांगें पूरी होने तक नेता ने प्रदर्शन स्थल से हटने से इंकार कर दिया था।

हाल के समय में पार्टी से दरकिनार किए गए यशवंत सिन्हा ने जिला पुलिस मुख्यालय में आंदोलन खत्म करने की घोषणा करते हुए संवाददाताओं से कहा, मुख्यमंत्री ने हमारी मांगों को स्वीकार कर लिया है लेकिन मैं इस आंदोलन को जीत या हार की दृष्टि से नहीं देखता।

महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि कपास की फसल में लगे रोग का सर्वेक्षण और पंचनामा इन महीने के अंत तक पूरा हो जाएगा। मूंग, उड़द और तूअर की दाल की सरकारी खरीद में किसानों के आड़े आने वाली शर्तें खत्म होंगी। राज्य में दलहन की सारी उपज नाफेड खरीदेगा। अगर किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम भाव पर उपज बेचनी पड़ी, तो सरकार 1250 रुपए प्रति कुंतल की दर से किसानों को भुगतान करेगी। कर्ज माफी के पात्र किसानों के खाते में 15 जनवरी तक रकम जमा हो जाएगी। बिल जमा करने वाले किसानों की बिजली नहीं काटी जाएगी।

मुझसे वादा कीजिए कि कोई भी किसान आत्महत्या नहीं करेगा।
यशवंत सिन्हा भाजपा नेता (मौजूद किसानों से अपील)

उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री ने बुधवार सुबह 11 बजे मुझसे बात की। हमारे बीच अच्छी चर्चा हुई। मैंने उन्हें किसानों की मांगों से अवगत कराया। उन्होंने मांगों को स्वीकार करने का आश्वासन दिया।

किसानों की मांग है कि बैंक अधिकारी और प्रशासन निजीतौर पर ग्राम पंचायत जा कर कर्ज माफी को अमल में लाए।

अकोला कलेक्टर आस्तिक कुमार पांडे ने कहा था कि अधिकतम समर्थन मूल्य से संबंधित मांग को छोड़ सभी छह मांगों को मान लिया गया है, अधिकतम समर्थन मूल्य पर केंद्र सरकार को फैसला करना है, हमने यशवंत सिन्हा की अगुवाई वाले प्रदर्शनकारियों से आंदोलन वापस लेने का आग्रह किया है।

कृषि ऋण माफी के तहत 5,000 करोड़ रुपए वितरित किए : महाराष्ट्र

कृषि ऋण माफी के तहत बैंकों ने 9.43 लाख किसानों के बैंक खातों अभी तक 5,141 करोड़ रुपए जमा कराए हैं, राज्य के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने आज यह जानकारी दी। सरकार ने 17.68 लाख किसानों की सूची सौंपी है तथा बैंकों में 10,332 करोड़ रुपए स्थानांतरित किए हैं। उन्होंने कहा कि इस ऋण राशि का वितरण आगामी दिनों में तेज होगा। मंत्री ने कहा कि उचित सत्यापन के बाद बैंकों ने 9.43 लाख किसानों के खातों में 5,141 करोड़ रुपए स्थानांतरित किए हैं।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

किसानों के हक में आवाज उठाने वाले यशवंत सिन्हा को कई नेताओं का समर्थन मिला।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा के इस वरिष्ठ नेता के बारे में महाराष्ट्र पुलिस के हिरासत लेने पर चिंता जताई। इसके अलावा शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे के मीडिया सलाहकार हर्षल प्रधान, केंद्रीय कृषि मंत्री शरद पवार से टेलीफोन पर बात की।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top