ममता बनर्जी ने भाजपा के खिलाफ क्षेत्रीय पार्टियों से एकजुट होने की अपील की

ममता बनर्जी  ने भाजपा के खिलाफ क्षेत्रीय पार्टियों से एकजुट होने की अपील कीममता बनर्जी (फोटो साभार: गूगल)।

कोलकाता (भाषा)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा का मुकाबला करने के लिए क्षेत्रीय पार्टियों से एकजुट होने की आज अपील की। उन्होंने आरोप लगाया कि भगवा पार्टी ने अपना विरोध करने वालों के खिलाफ ‘प्रतिशोध की राजनीति' का सहारा लिया है और वह देश को एक ‘खतरनाक रास्ते' पर ले जाना चाहती है।

अगले छह साल के लिए तृणमूल कांगे्रस का अध्यक्ष फिर से चुने जाने के कुछ ही देर बाद यहां एक बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा, ‘‘देश में राजनीति के नाम पर जो हो रहा है वह राजनीति नहीं हैं। वक्त का तकाजा है कि सभी क्षेत्रीय पार्टियां एकजुट हों।'' उन्होंने कहा, ‘‘मैं कुछ नहीं चाहती। मैं चाहती हूं कि आप सभी (क्षेत्रीय पार्टियां) प्रगति करें, मैं आपके समर्थन में हूं।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मैं यह संदेश हर पार्टी को दे रही हूं। साथ आइए, एकजुट होइए, मेरी पार्टी आप सब के साथ खड़ी है।'' ममता ने कहा, ‘‘भाजपा ने प्रतिशोध की राजनीति का सहारा लिया है। वह देश के संघीय ढांचे को तोड़ना चाहती है। भाजपा हमारी पार्टी के खिलाफ है क्योंकि हम लोगों के बारे में बात करते हैं।'' उन्होंने पार्टी के लोगों से नहीं डरने की अपील करते हुए कहा, ‘‘वे हमारे नेताओं के खिलाफ सीबीआई का इस्तेमाल कर हमें खत्म करना चाहते हैं लेकिन वे लोग खुद ही खत्म हो जाएंगे।

तृणमूल कांग्रेस पलटवार करेगी।'' उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव पर नजरें टिकाते हुए कहा चाहे जो कुछ भी साजिश हो, आप को जमीनी स्तर पर जाना होगा और कार्यकर्ताओं से मिलना होगा। हम हर किसी को साथ लेकर लड़ेंगे। पार्टी के 12 नेताओं और मंत्रियों के खिलाफ सीबीआई के मामला दर्ज करने की ओर संभवत: इशारा करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हम एक संस्था के तौर पर सीबीआई का सम्मान करते हैं लेकिन यह वह सीबीआई नहीं है जिसे हम जानते हैं। इन दिनों सीबीआई एक ऐसा चूहा है, जिसे पालतू बना दिया गया है।'' उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस संसदीय दल के नेता सुदीप बंदोपाध्याय को सीबीआई ने गिरफ्तार किया क्योंकि उन्होंने नोटबंदी के खिलाफ बोला था।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.