मंदसौर : गिरफ्तार किसानों ने छूटने के बाद शुरू की दिल्ली की यात्रा, 18 से अनिश्चित कालीन धरना 

मंदसौर : गिरफ्तार किसानों ने छूटने के बाद शुरू की दिल्ली की यात्रा, 18 से अनिश्चित कालीन धरना मंदसौर से शुरू किसान मुक्ति यात्रा।

मन्दसौर। विगत छह जुलाई को 'किसान मुक्ति यात्रा' निकालने की कोशिश में गिरफ्तार किए गए किसानों ने छूटने के बाद दोबारा यात्रा शुरू कर दी है। आज शुक्रवार को किसानों की यह यात्रा मन्दसौर से नागदा, उज्जैन, देवास होते हुए इंदौर पहुंची। किसान की यह यात्रा महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तरप्रदेश व हरियाणा होते हुए 18 जुलाई को दिल्ली के जंतर मंतर पहुंचेगी। किसान नेताओं ने बताया कि दिल्ली में अनिश्चित कालीन धरना होगा।

इस अवसर पर यात्रा में शामिल स्वराज अभियान के योगेंद्र यादव, अविक साहा, वीएम सिंह, चौधरी रामपाल जाट, सांसद राजू शेट्टी, केदार सिरोही व मेघा पाटकर ने अपने विचार व्यक्त किये।

मंदसौर से शुरू किसान मुक्ति यात्रा के सदस्यों को रोकती पुलिस।

संबंधित खबर : मंदसौर में रोकी गई किसान यात्रा, योगेंद्र यादव-मेघा पाटकर सहित 300 गिरफ्तार

उल्लेखनीय है कि मंदसौर के बुढ़ा गांव में विगत 5 जुलाई को ही देश भर से किसान संगठन एकत्रित हुए थे। यहां शाम को 8 बजे गाँव की चौपाल में बैठक हुई। जिसके बाद 6 जुलाई को किसान यात्रा प्रारंभ करने के लिए शहर में स्थित शहीद स्थल जा रहे थे।

मंदसौर में किसान मुक्ति यात्रा का नेतृत्व करते राजेंद्र यादव व अन्य किसान नेता।

इसी बीच प्रशासन ने किसान मुक्ति यात्रा को गुडभेली गाँव के पास ही रोक लिया। यहां जब समस्त किसान संगठनों ने रोड पर ही सभा शुरू कर दी तो प्रशासन ने गिरफ्तार करने की चेतावनी दे दी। किसानों ने भी गिरफ्तारी दी, व इसके बाद उन्हें गिरफ्तार करके दलौदा मंडी ले जाया गया। 3 घंटे किसानों को वहीं पर बैठा कर रखा गया। बाद में उन्हें छोड़ दिया गया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top