मंगलयान: आज ही की तारीख में भारत ने रचा था इतिहास

मंगलयान: आज ही की तारीख में भारत ने रचा था इतिहासप्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। भारत के पहले अंतरग्रहीय अंतरिक्ष मिशन मंगलयान को आज ही के दिन 5 नवंबर 2013 को श्रीहरिकोटा से लॉच किया गया है। मंगलयान की सफलता इसलिये भी महत्वपूर्ण है क्योंकि भारत अपने पहले प्रयास में ही मंगल पर पहुंचने वाला पहला देश बन गया था।

24 सितंबर 2014 को मंगल की कक्षा में पहुंचा

5 नवंबर 2013 को मंगलयात्रा पर भेजे गए इस यान ने 24 सितंबर 2014 को मंगल की कक्षा में पहुंचकर इतिहास रच दिया था और इसके साथ ही भारत अपने पहले प्रयास में ही मंगल पर पहुंच जाने वाला दुनिया का पहला देश बन गया था। मंगल पर पहुंचने वाले अमेरिका और पूर्व सोवियत संघ जैसे देशों को कई प्रयासों में सफलता मिली थी।

ये भी पढ़ें- दो बाघों को बचाने से लाभ, मंगलयान के खर्च से अधिक

मंगलयान को तैयार करने में आई 450 करोड़ रुपए की लागत

मंगलयान को तैयार करने में करीब 450 करोड़ रुपए की लागत आई थी। इस दौरान इसने मंगल की सतह, वहां की घाटियों, पर्वतों, बादलों और वहां उठने वाले धूल भरे तूफानों की शानदार तस्वीरें तथा डेटा मुहैया कराया है। मंगलयान लगभग तीन दिन में मंगल की कक्षा का एक चक्कर पूरा करता है।

खेती और रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मशीनों और जुगाड़ के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

Share it
Top