वर्ष 2017-18 में आम उत्पादन 2.10 करोड़ टन रहने का अनुमान

केंद्र प्रायोजित योजना एकीकृत बागवानी विकास मिशन के तहत आम की उत्पादकता बढ़ाने पर गौर किया जा रहा है। ताजा आंकड़े के अनुसार आम का अधिकतम उत्पादन उत्तर प्रदेश से अनुमानित है

वर्ष 2017-18 में आम उत्पादन 2.10 करोड़ टन रहने का अनुमान

नई दिल्ली। देश में आम का उत्पादन फसल वर्ष 2017-18 में 8 प्रतिशत बढ़कर 2.10 करोड़ टन रहने का अनुमान है। प्रमुख उत्पादक राज्यों में अच्छी फसल से आम का उत्पादन बढ़ा है। इससे पिछले फसल वर्ष में आम का उत्पादन 1.95 करोड़ टन था। कृषि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, " देश में आम का उत्पादन हर साल बढ़ रहा है। सरकार ने आम का उत्पादन और निर्यात बढ़ाने के लिये कई कदम उठाये हैं।"

इस बाग का आम बिकता है 120 रुपए किलो, पकाने के लिए होता है जापानी तकनीक का प्रयोग

अधिकारी ने कहा कि केंद्र प्रायोजित योजना एकीकृत बागवानी विकास मिशन के तहत आम की उत्पादकता बढ़ाने पर गौर किया जा रहा है। ताजा आंकड़े के अनुसार आम का अधिकतम उत्पादन उत्तर प्रदेश से अनुमानित है। उसके बाद क्रमश: आंध्र प्रदेश और कर्नाटक का स्थान है। उत्तर प्रदेश में आम का उत्पादन 2017-18 में 45.4 करोड़ टन रहने का अनुमान है जो इससे पूर्व वर्ष में 43.4 लाख टन था। वहीं आंध्र प्रदेश में 44.8 लाख टन तथा कर्नाटक में 18.1 लाख टन अनुमानित है। अधिक उत्पादन के बावजूद इसका निर्यात 50,000 टन सालाना भी नहीं है।

ये आम हैं बहुत ख़ास, जानें किस राज्य में किस आम के स्वाद का है राज

इस विधि को अपनाने से आम के पुराने पेड़ों से भी होगा आम का अधिक उत्पादन

Share it
Top