गुजरात हाईकोर्ट ने कहा फेसबुक के जरिए की गई शादी सफल नहीं

गुजरात हाईकोर्ट ने कहा फेसबुक के जरिए की गई शादी सफल नहींफेसबुक के जरिए की गई शादी सफल नहीं

सोशल मीडिया के जरिए दोस्त और जीवन साथी चुनने की संख्या में वृद्धि होने पर गुजरात हाईकोर्ट ने सलाह दी है कि लोगों को ऐसी समस्याग्रस्त शादियों को खत्म कर देना चाहिए क्योंकि ये असफल ही होते हैं। न्यायमूर्ति जे बी पर्दीवाला ने यह सलाह अपने 24 जनवरी के आदेश में एक घरेलू हिंसा के मामले का निपटारा करने के दौरान दी।

वो राजकोट के फंसी शाह के मामले की सुनवाई कर रहे थे जिसमें उन्होंने अपने पति जयदीप शाह और उनके ससुराल पर दहेज के लिए उत्पीड़न का आरोप लगाया था। जज ने कहा कि विवाह हुआ और उसके बाद दो महीने के भीतर ही समस्याएं उत्पन्न हुईं। मुझे एक तथ्य का ध्यान रखना चाहिए कि पार्टियों ने मामले को सुलझाने की कोशिश की लेकिन समझौता नहीं हो सका।

ये भी पढ़ें- फेसबुक पर अब न्यूज नहीं लोगों के पोस्टों को मिलेगी वरीयता

उन्होंने कहा कि यह फेसबुक पर तय की गई उन शादियों में से एक है जो असफल ही होती हैं। नवसारी निवासी जयदीप साल 2011 में फेसबुक पर फंसी के संपर्क में आया, जब वह इंजीनियरिंग में डिग्री कोर्स कर रहा था। फरवरी 2015 में, दोनों ने अपने माता-पिता की सहमति के साथ शादी कर ली। हालांकि, वैवाहिक संबंध दो महीने के भीतर ही खराब हो गया।

ये है आरोप

फंसी ने जयदीप, उनके भाई पीयूष, विक्षा भाई और अनीताबेन के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसमें उन्हें घरेलू हिंसा और दहेज के लिए परेशान करने का आरोप लगाया गया। जयदीप और उसके परिवार के सदस्य मामले को 2016 में हाईकोर्ट ले गए। न्यायमूर्ति पर्दीवाला ने दंपती को सलाह दी तलाक के फैसले पर विचार करें और आगे बढ़ें।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

संबंधित खबरें- ... तो फेसबुक अकाउंट बनाने के लिए भी ज़रूरी होगा आधार

हर्षिता ने फेसबुक पर मिली धमकियों पर कहा था ‘मैं जाटनी हूं डरती नहीं’ , किसानों के लिए थी चिंतित

Tags:    facebook 
Share it
Share it
Share it
Top