मेरठ चीनी मिल हादसा : एनजीटी ने केंद्र और यूपी सरकार को नोटिस जारी किया

मेरठ में बजाज हिंदुस्तान चीनी मिल में हाल में लगी आग का संज्ञान लेते हुए एनजीटी ने पर्यावरण मंत्रालय और उत्तर प्रदेश सरकार से जवाब मांगा है। ऐसी घटनाएं टालने के लिए उपायों की मांग को लेकर एक याचिका दायर की गयी है।

मेरठ चीनी मिल हादसा : एनजीटी ने केंद्र और यूपी सरकार को नोटिस जारी किया

नई दिल्ली। मेरठ में बजाज हिंदुस्तान चीनी मिल में हाल में लगी आग का संज्ञान लेते हुए एनजीटी ने पर्यावरण मंत्रालय और उत्तर प्रदेश सरकार से जवाब मांगा है। ऐसी घटनाएं टालने के लिए उपायों की मांग को लेकर एक याचिका दायर की गयी है।

किनौनी में मिल के डिस्टलरी वाले हिस्से में कंटेनरों में एथेनॉल भरने के दौरान भंडार टैंक में आग के कारण दो श्रमिकों की मौत हो गयी थी और एक को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। घटना 26 मई को दोपहर में हुयी थी। सेना की मदद से राज्य का दमकल विभाग अगले दिन शाम तक पूरी तरह इस आग पर काबू पा सका। राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) के कार्यवाहक अध्यक्ष न्यायमूर्ति जवाद रहीम की अध्यक्षता वाली पीठ ने पर्यावरण और वन मंत्रालय, यूपी सरकार और पेट्रोलियम तथा सुरक्षा संगठन (पीईएसओ) को नोटिस जारी किया।

ऐसे ही बढ़ती रहीं डीजल की कीमतें तो बिगड़ेगा आप की रसोई का बजट

याचिकाकर्ता एनजीओ सेफ की ओर से पेश वकील संजय उपाध्याय ने कहा, औद्योगिक इकाई बजाज हिंदुस्तान चीनी मिल की 14 इकाइयों में एक है और उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सुपुर्द किसी भी रिपोर्ट में डिस्टिलरी की स्थिति पर कोई सूचना नहीं है। वकील ने कहा कि गर्मी के महीने में डिस्टिलरी इकाइयों में आग से हादसे होने की आशंका रहती है और प्रशासन को उचित निर्देश जारी करने चाहिए, ताकि भविष्य में ऐसी घटनाएं नहीं हो।



पुरा महादेव रोड पर स्थित बजाज हिंदुस्तान लिमिटेड की किनौनी शुगर मिल की डिस्टिलरी में शनिवार दोपहर भीषण आग लग गई थी। वहां काम कर रहे एक की मौत हो गई जबकि दो गंभीर रूप से झुलस गए। फायर ब्रिगेड की कई गाडि़यां पहुंची लेकिन आग पर काबू न होने पर मदद के लिए सेना को बुलाया गया था। शुगर मिल की डिस्टलरी यूनिट में लगे आठ टैंकों में आठ लाख लीटर एल्कोहल भरा हुआ था। शनिवार दोपहर बिजली की मोटर के जरिए एक कंटेनर में टैंक से एल्कोहल भरा जा रहा था। इसी बीच स्पार्किंग हुई और दो टैंकों में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया।

इंजीनियर ने 12 हजार रुपए में शुरू किया था शू लॉन्ड्री का बिजनेस, टर्नओवर सुन रह जाएंगे हैरान

Share it
Top