दूध की मिलावट का अब पता लगाइये स्मार्ट फोन से, आईआईटी वैज्ञानिकों ने प्रणाली विकसित की

हैदराबाद में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के अनुसंधानकर्ताओं ने स्मार्टफोन आधारित ऐसी प्रणाली विकसित की है, जिससे दूध में मिलावट का पता चल जायेगा।

दूध की मिलावट का अब पता लगाइये स्मार्ट फोन से, आईआईटी वैज्ञानिकों ने प्रणाली विकसित की

नई दिल्ली (भाषा)। यदि कहा जाए कि आप अब अपने फोन से न केवल बातचीत बल्कि दूध में मिलावट का भी पता लगा सकते हैं तो आप हैरत में पड़ जाएंगे। हैदराबाद में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के अनुसंधानकर्ताओं ने स्मार्टफोन आधारित ऐसी प्रणाली विकसित की है।

यह प्रणाली एक संकेतक कागज का इस्तेमाल करके दूध में अम्लता का पता लगाती है जो एसिडिटी (अम्लता) के अनुसार रंग बदलता है। उन्होंने अल्गोरद्मि भी विकसित किया है, जिसे स्मार्टफोन से जोड़कर रंग में बदलाव का सही सही विशलेषण किया जा सकता है। अनुसंधान दल की अगुवाई कर रहे आईआईटी के प्रोफेसर शिव गोविंद सिंह ने कहा कि दूध में मिलावट का पता लगाने के लिए क्रोमेटोग्राफी और स्पेक्ट्रोस्कोपी जैसी तकनीकों का इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन इस तरह की तकनीकों के लिए सामान्य रूप से व्यापक व्यवस्था जरूरी होती है और इनमें कम कीमत की आसानी से उपयोग वाले उपकरणों का इस्तेमाल व्यावहारिक नहीं है।

ये भी पढ़ें- इस तरह आप खुद जान सकेंगे सब्जियों और दूध से लेकर खाने में मिलावट है कि नहीं- डॉ. धवन

उन्होंने कहा, हमें सामान्य उपकरण विकसित करने होंगे, जिनका इस्तेमाल ग्राहक दूध में मिलावट का पता लगाने के लिए कर सकें। महंगे उपकरणों की जरूरत के बिना उसी समय इन सभी मानकों पर निगरानी रखके दूध में मिलावट का पता लगाने के तरीके को सुरक्षित बनाया जाना चाहिए। पहले अनुसंधान दल ने पीएच स्तर को मापने के लिए एक सेंसर-चिप आधारित तरीका विकसित किया था।

ये भी पढ़ें- स्ट्रिप पेपर के जरिये जांच सकेंगे दूध में मिलावट


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top