स्वछता सर्वेक्षण 2018: सफाई के मामले में शहरों में इंदौर तो राज्यों में झारखण्ड नंबर वन

स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में झारखंड को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाला राज्य चुना गया। इसके बाद महाराष्ट्र तथा छत्तीसगढ़ का स्थान रहा। इस सर्वे का मकसद शहरों में स्वच्छता के स्तर का आकलन करना है।

स्वछता सर्वेक्षण 2018: सफाई के मामले में शहरों में इंदौर तो राज्यों में झारखण्ड नंबर वन

स्वछता सर्वेक्षण 2018 के नतीजों में इंदौर ने दूसरी बार जीत हांसिल की है। केंद्रीय आवास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के नतीजे घोषित किए। उन्होंने कहा कि मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इंदौर ने यह ख़िताब जीता है। इसी स्वच्छता सर्वेक्षण में भोपाल दूसरे और चंडीगढ़ तीसरे नंबर पर है।



स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में झारखंड को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाला राज्य चुना गया। इसके बाद महाराष्ट्र तथा छत्तीसगढ़ का स्थान रहा। इस सर्वे का मकसद शहरों में स्वच्छता के स्तर का आकलन करना है। पुरी ने कहा कि सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले शहरों के नाम पुरस्कार वितरण के दिन घोषित किए जाएंगे।
इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और लोकसभा की स्पीकर सुमित्रा महाजन ने इंदौर निवासियों और वहां के प्रशासन को स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में जीतने पर बधाई दी है और उम्मीद जाहिर कि है कि आगे भी ऐसा ही जारी रहेगा।


स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 के तहत देश के सभी 4203 शहरों में सफाई की स्थिति का आकलन किया गया। यह सर्वेक्षण 4 जनवरी 2018 से शुरू किया हुआ था। पिछले साल इसमें 434 बड़े शहरों को शामिल किया गया था। 2016 में 73 शहर थे। 2014 से स्वच्छ भारत अभियान के तहत शुरू किया गया यह तीसरा सर्वेक्षण था। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की राजधानियों में ग्रेटर मुंबई देश की सबसे साफ-सुथरी राजधानी बनकर उभरी है।


Share it
Top