गोवा में मुट्ठी भर अल्पसंख्यक कर रहे विकास का विरोध : गडकरी

गोवा में मुट्ठी भर अल्पसंख्यक कर रहे विकास का विरोध : गडकरीकेंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी।

पणजी (भाषा)। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि गोवा में मुट्ठी भर अल्पसंख्यक ऐसे हैं जो विकास विरोधी हैं और विभिन्न परियोजनाओं के लिए बाधक साबित हो रहे हैं। केंद्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री गडकरी यहां कल शाम गोवा चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्टरी की सालाना बैठक को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री ने कहा, ''केंद्र सरकार के पास विकास कार्य करने के लिए पर्याप्त धन है। बहरहाल, यहां मुट्ठी भर अल्पसंख्यक ऐसे हैं जो विकास विरोधी हैं और राज्य के विकास में बाधक साबित हो रहे हैं।'' गडकरी का इशारा बंदरगाह जैसी परियोजनाओं की ओर था जिन्हें गोवा में स्थापित करने की योजनाएं तो बनाई गईं लेकिन कुछ वर्गों के विरोध के चलते अन्यत्र स्थानांतरित कर दिया गया।

ये भी पढ़ें : आधुनिकता के दौर में तंगहाली का जीवन गुजार रहे तांगे वाले

उन्होंने कहा, ''हम गोवा के विकास के लिए गंभीर हैं। हमारे पास सड़कों और बंदरगाह अवसंरचनाओं के लिए करोड़ों रुपये का बजट है। हम बंदरगाहों के विस्तार के इच्छुक हैं लेकिन लोग इसके इच्छुक नहीं हैं। इसलिए मैंने कर्नाटक और महाराष्ट्र जाने का फैसला किया।'' मंत्री ने कहा, ''अगर आप (गोवा वासी) चाहते हैं तो हम उनका विकास करेंगे। अगर आप नहीं कहेंगे तो हमें दूसरे राज्यों में जाने में हिचकिचाहट नहीं होगी।''

ये भी पढ़ें : पांच लाख के ईनामी गैंगस्टर का इनकाउंटर, 5 राज्यों की पुलिस को थी तलाश

Share it
Top