नए साल पर केंद्र सरकार का तोहफा, पूर्वोत्तर में जल्द मिलेगी मोबाइल हवाई डिस्पेंसरी

नए साल पर केंद्र सरकार का तोहफा, पूर्वोत्तर में जल्द मिलेगी मोबाइल हवाई डिस्पेंसरीसाभार: इंटरनेट।

अब अगर आपकी अचानक तबियत खराब हो जाती है और समय रहते आप डॉक्टर को दिखाने नहीं जा पा रहे हैं तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार नए साल में पूर्वोत्तर के पर्वतीय प्रदेशों के लिये मोबाइल हवाई डिस्पेंसरी की शुरूआत करने जा रही है। इस डिस्पेंसरी में चिकित्सा से जुड़े सामान और डॉक्टर उपलब्ध होंगे।

फिलहाल सरकार ने दो हवाई डिस्पेंसरी के लिये 80 से 100 करोड़ रुपए आवंटित करने की मंजूरी दे दी है। डिस्पेंसरी का संचालन शिलांग और इंफाल से होगा। बतादें असम को छोड़कर बाकी के छह प्रदेशों में हवाई डिस्पेंसरी के जरिये आपात स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।

ये भी पढ़ें- सर्दियों की ये आम सी बीमारी बन सकती है बड़ा ख़तरा

आधिकारिक दस्तावेजों के मुताबिक, तीन केंद्रीय मंत्रालयों की ओर से इसके लिए पवन हंस हेलीकॉप्टर की सेवाएं ली जाएंगी। परियोजना से संबंधित आधिकारिक टिप्पणी में कहा गया है, प्रस्तावित परियोजना की पहली बैठक में पवन हंस के प्रतिनिधि मौजूद थे, जिन्होंने इस योजना की तारीफ की।

ये भी पढ़ें- शराब ठंड नहीं भगाती, अस्पताल पहुंचाती है, पैग के नुकसान गिन लीजिए

पवन हंस को मोबाइल एयर एंबुलेंस सेवा प्रदान करने के लिए कहा गया। पवन हंस की ओर से तैयार की गई परियोजना रपट में छह प्रदेशों में दो हेलीकॉप्टर के संचालन पर अनुमानित लागत 1.87 करोड़ रुपये प्रति माह बताई गई है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

ये भी पढ़े- हार्ट अटैक : दिल न खुश होता है न दुखी, दिनचर्या बदलकर इस तरह करें बचाव

ये भी पढ़ें- बुजुर्गों के लिए इसलिए खतरनाक होती हैं सर्दियां

Share it
Top