स्काईमेट का दावा, चार दिन पहले ही मानसून ने केरल में दे दी दस्तक

कुछ दिन पहले मौसम वैज्ञानिकों ने कहा था कि देश के उत्तरी इलाकों में आंधी-तूफान के असर से इस बार मानसून 4-5 दिन पहले आ सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगर केरल और उससे सटे दूसरे राज्यों के 14 मौसम केंद्रों में 60 फीसदी पर दो दिन लगातार 2.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज होती है तो माना जाता है कि मानसून ने दस्तक दे दी है।

स्काईमेट का दावा, चार दिन पहले ही मानसून ने केरल में दे दी दस्तक

उत्‍तर भारत में भीषण गर्मी के बीच एक राहत भरी खबर यह है कि मानसून केरल पहुंच गया है। मौसम पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक मानसून ने चार दिन पहले ही सोमवार को केरल में दस्तक दे दी है। वहीं, भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि अगले 24 घंटे में मानसून केरल पहुंचेगा। हालांकि, सोमवार सुबह केरल के कई इलाकों में जबरदस्त बारिश हुई है। केरल में आमतौर पर मानसून 1 या 2 जून को आता है। मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि मानूसन अगले कुछ दिनों में मध्‍य भारत में प्रवेश कर जाएगा।

कुछ दिन पहले मौसम वैज्ञानिकों ने कहा था कि देश के उत्तरी इलाकों में आंधी-तूफान के असर से इस बार मानसून 4-5 दिन पहले आ सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक, अगर केरल और उससे सटे दूसरे राज्यों के 14 मौसम केंद्रों में 60 फीसदी पर दो दिन लगातार 2.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज होती है तो माना जाता है कि मानसून ने दस्तक दे दी है।





मौसम विभाग के मुताबिक, इस साल देश में मानसून की गतिविधियां सामान्य रहेंगी। जून से सितंबर के बीच 97 फीसदी बारिश की उम्मीद है। दक्षिण अरब सागर में मानसून की स्थिति मजबूत है। मंगलवार सुबह तक इसके मालदीव, केरल के तटीय इलाके, तमिलनाडु, बंगाल की खाड़ी और अंडमान-निकोबार के ऊपर छाने की उम्मीद है।

आंधी तूफान से 11 की मौत

वहीं उत्तर प्रदेश में आंधी पानी से 11 लोगों की मौत हो गई। वज्रपात और आंधी-पानी के कहर से सुलतानपुर व कानपुर में दो-दो और उन्नाव में चार और रायबरेली में तीन लोगों की मौत हो गई। उन्नाव के सफीपुर में वज्रपात से एक युवक और एक वृद्ध महिला की मौत हो गई। इससे पहले लालगंज में गर्मी से रामश्री की जिला अस्पताल में मौत हो गई।

वहीं, कानपुर के चौबेपुर व शिवराजपुर में वज्रपात से वृद्ध और किशोर की मौत हो गई। सुलतानपुर में हीट स्ट्रोक से दो लोगों की मौत हो गई। वहीं रायबरेली में सोमवार की दोपहर में ग्रामीण क्षेत्रों में आंधी से तीन लोगों की मौत हो गई।

(एजेंसी)

ये भी पढ़ें- डिहाइड्रेशन से बचने के लिए आम पना और नींबू पानी पिएं


Share it
Top