मानसून सत्र 2018 : विपक्षी पार्टियों का मॉब लिंचिंग मुद्दे पर हंगामा

मानसून सत्र शुरू होते ही टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस के सांसदों ने सदन में जमकर नारेबाजी की। उन्होंने आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य के दर्जे की मांग सदन में रखी। वहीं कांग्रेस ने लिंचिंग के मुद्दे पर हंगामा किया और सदन में इस पर चर्चा कराने की मांग की।

मानसून सत्र 2018 :   विपक्षी पार्टियों का मॉब लिंचिंग मुद्दे पर हंगामा

नई दिल्ली। संसद का मॉनसून सत्र आज से शुरू हो गया। ये सत्र 18 जुलाई से 10 अगस्त तक चलेगा। इस दौरान लोकसभा में आठ पेंडिंग बिल और छह अध्यादेश पर चर्चा होगी। इसके अलावा राज्यसभा में भी 40 बिल पर चर्चा का इंतज़ार है। इस दौरान आंध्र प्रदेश में सत्ताधारी तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) राज्य को विशेष दर्जा देने की अपनी मांग के लिए केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश कर सकती है। संसद का मॉनसून सत्र शुरू हो चुका है। इस दौरान लोकसभा में सुनवाई के दौरान विपक्षी पार्टियों के सदस्य मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर हंगामा कर रहे हैं।





वहीं वाईएसआर कांग्रेस सांसद पार्लियामेंट में गांधी की मूर्ति के नजदीक तख्तियां लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वे आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग कर रहे हैं।

लाइव अपडेट:

- लोकसभा में विपक्ष का अविश्वास प्रस्ताव मंजूर

- सरकार अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए तैयार

- चर्चा के लिए समय और तारीख बाद में तय होगी: लोकसभा अध्यक्ष

-सरकार ने एससी/एसटी एक्ट को मजबूत करने का काम किया: राजनाथ सिंह

Share it
Top