Top

मुंबई: दीवार गिरने से 18 लोगों की मौत, बचाव के लिए उतरी NDRF और नौसेना

मुंबई में बारिश का कहर जारी है। मलाड इलाके में बारिश की वजह से दीवार ढहने से 18 लोगों की मौत हो गई है। हादसे में 13 लोगों के घायल होने की भी खबर है।

मुंबई:  दीवार गिरने से 18 लोगों की मौत, बचाव के लिए उतरी NDRF और नौसेना

मुंबई। मुंबई में बारिश का कहर जारी है। मलाड इलाके में बारिश की वजह से दीवार ढहने से 18 लोगों की मौत हो गई है। हादसे में 13 लोगों के घायल होने की भी खबर है। एनडीआरएफ के एक अधिकारी ने बताया कि रात करीब 2 बजे पूर्वी मलाड के पम्पिरीपाड़ा इलाके में एक परिसर की दीवार ढहने की वजह से पास की झुग्गियों में रहने वाले लोग भी उसकी चपेट में आ गए। उन्होंने बताया कि राहत और बचाव कार्य जारी है और घायलों को नजदीकी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

यातायात रहेगा प्रभावित

मुंबई में मूसलाधार बारिश के कारण सड़कों और रेल की पटरियों पर पानी भरने से रेल और सड़क परिवहन भी प्रभावित रहेगी। भारतीय मौसम विभाग ने आने वाले दिनों में भी भारी बारिश के चलते स्थानीय लोगों को घरों से निकलने से बचने की सलाह दी है। भारी बारिश से हवाई सेवाएं भी बाधित हुई हैं। मुंबई एयरपोर्ट से 55 फ्लाइट को डायवर्ट किया गया है, इसके साथ ही 52 उड़ानों को रद्द कर दिया गया है।

हालातों का जायजा लेने पहुंचे सीएम

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस BMC के दफ्तर पहुंचे हैं। वह पूरे शहर के हालात का जायजा ले रहे हैं। घायलों की हाल चाल जानने के लिए वह मलाड के शाताब्दी अस्पताल भी पहुंचे। हादसों में मरने वाले लोगों के परिजनों को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने 5-5 लाख के मुआवजा देने की भी घोषणा की है।

मुंबई में बारिश से हालात इतने खराब हो गए हैं कि सड़कों पर मदद करने के लिए नौसेना को उतरना पड़ा है। NDRF और नौसेना की मदद से 1000 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया।

ये भी पढ़ें- 2015 के बाद जून में सबसे कम हुई मानसून बारिश, 33 फीसद की आई कमी

भारी बारिश को देखते हुए मुंबई शहर, मुंबई सबअर्बन और ठाणे में सभी स्कूल-कॉलेज तीन दिन बंद रखने का प्रशासन ने आदेश दे दिया है।

पुणे में भी दीवार ढहने से छह लोगों की मौत

मुंबई के अलावा पुणे के अम्बेगांव इलाके में बनीं अस्थाई झोंपड़ियों पर गिरने की वजह से छह लोगों की मौत हो गई है। हादसे में तीन लोगों के घायल होने की भी खबर है। जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने बताया कि प्राथमिक जांच में ऐसा लग रहा है कि अस्थाई झोपड़ियों के पास स्थित कॉलेज कॉलेज की दीवार पर पेड़ गिर गया जिसके बाद दीवार उन झोंपड़ियों पर भी गिर गईं।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.