मुंबई: फुटओवर ब्रिज गिरने से 36 लोग घायल, 5 की मौत

मुंबई: फुटओवर ब्रिज गिरने से 36 लोग घायल, 5 की मौत

मुंबई में गुरुवार देर शाम एक बड़ा हादसा हुआ है। शहर के सीएसएटी (CSMT) रेलवे स्टेशन के पास एक फुटओवर ब्रिज अचानक गिर गया। इस बड़े हादसे में 36 लोग घायल हो गए और 5 लोगों की जान चली गई। सभी घायलों को पास के सेंट जॉर्ज हॉस्पिटल में ले जाया गया। ये हादसा इतना बड़ा था कि एनडीआरएफ की टीम भी राहत और बचाव के काम के लिए पहुंच गई। दरअसल, फुटओवर ब्रिट पीक आवर्स में गिरा, जब लोगों के ऑफिस से लौटने का वक्त होता है। जिस वक्त ये हादसा हुआ, ब्रिज पर काफी लोग मौजूद थे।



मुंबई फुटओवर ब्रिज हादसे में मारे गए चार लोगों की पहचान हो पाई है, जिसमें अपूर्वा प्रभु (35) और रंजना काम्बले (45) और जाहिद (32) भक्ति शिंदे (40) तापेंद्र सिंह (35) शामिल हैं। बताया जा रहा है कि मृत दोनों महिलाएं जीटी अस्पताल में काम करती थीं।

कस्ट फुटओवर ब्रिज हादसे पर दु:ख जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना के बाद ट्वीट किया, "मुंबई में हुए ब्रिज हादसे के कारण हुई लोगों की मौत की खबर सुनकर बहुत दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं और मैं इस घटना में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। महाराष्ट्र सरकार इस हादसे में हताहत सभी लोगों को हर संभव मदद दे रही है।'



मुंबई पुलिस के मुताबिक, 'टाइम्‍स ऑफ इंडिया बिल्डिंग के पास सीएसटी के प्‍लेटफॉर्म संख्‍या एक को बीटी लेन से जोड़ने वाले फुटओवर ब्रिज के साथ यह हादसा हुआ। रेलवे और बीएमसी अधिकारियों के ख़िलाफ़, सरकार ने एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस की तरफ से आईपीसी की धारा 304(A) के तहत कार्रवाई की जाएगी।



महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने फुटओवर ब्रिज हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रूपये देने की घोषणा की। राज्य सरकार की तरफ से घायलों का इलाज मुफ्त में कराया जाएगा।



इस बीच गिरीश महाजन घायलों से मिलने जीटी हॉस्पिटल पहुंचे, उन्होंने बताया कि अस्पताल में पर्याप्त संख्या में डॉक्टर और विशेषज्ञ मौजूद है। ब्लड बैंड में पर्याप्त ब्लड उपलब्ध है। जवाबदेही बाद में तय की जाएगी, हमारी प्राथमिकता घायलों की मदद करने की है।



Share it
Top