‘अनुभूति’ कोच में लीजिये हवाई जहाज जैसी सुविधाएं

‘अनुभूति’ कोच में लीजिये हवाई जहाज जैसी सुविधाएंबिजली बचाने के लिए इसमें एलईडी लाइट्स लगाईं गईं हैं।

भारतीय रेलवे जल्द ही शताब्दी और राजधानी ट्रेनों में नए तरीके के आरामदायक डिब्बे लगाने जा रहा है। अनुभूति नाम के यह नए डिब्बे जल्द ही आपको मुंबई शताब्दी एक्सप्रेस में नजर आएंगे। अनुभूति का मतलब होता है एक अच्छा अनुभव।जैसा नाम वैसा ही डिब्बा बनाने की कोशिश की गई है।अनुभूति के एसी प्रथम श्रेणी के चेयरकार डिब्बे में एंटी ग्रेफ्टी पेंट किया गया है, इससे इस डिब्बे के ऊपर खरोंच नहीं लगती और इसे धोने में काफी आसानी रहती है।

ये होंगी खासियत-

  • अनुभूति कोच को इस तरह बनाया गया है इसमें सफर करने वाले को हवाई यात्रा की तरह अनुभव हो। अनुभूति के एसी प्रथम श्रेणी चेयरकार डिब्बे में कुल मिलाकर 56 सीटें हैं।खास बात यह है कि यह सीटें रेक्लाइनर सीटें हैं यानी सीटों को आगे पीछे किया जा सकता है और साथ ही झुकाया जा सकता है।
  • सीट के सामने एलईडी स्क्रीन लगाई गई है। इस स्क्रीन पर फिल्म और दूसरे मनोरंजक कार्यक्रम चलाने की सुविधा रहेगी। इसके अलावा हर एक सीट के सामने बोतल होल्डर और मैगजीन होल्डर दिया गया है। इसके अलावा हर एक सीट पर एक छोटी सी फोल्डेबल टेबल भी दी गई है।
  • इसकी सीटें अग्निरोधक हैं।डिब्बे के अंदर फर्श पर जो मेटेरियल लगाया गया है ,वह इस तरह का है कि ज्यादा चमक बरकरार रहे और साथ ही इस पर फिसलन ना हो।
  • इसके अलावा डिब्बे के अंदर बड़ी-बड़ी डिस्प्ले स्क्रीन लगाई गई हैं, जिन पर आने वाले स्टेशन के बारे में जानकारी दी जाती रहेगी। डिब्बे में ऑटोमेटिक स्लाइडिंग डोर लगाए गए हैं।
  • रेल का ये डिब्‍बा अंदर से काफी स्‍पशियस है। पूरे डिब्बे में दृष्टिबाधित लोगों के लिए ब्रेल लिपि में इंस्ट्रक्शन लिखे हुए हैं। हर एक सीट के ऊपर रीडिंग लाइट लगाई गई है साथ ही साथ परिचारक को बुलाने के लिए बेल लगाई गई है।
  • भारतीय रेल में सबसे ज्यादा शिकायत लोगों को टॉयलेट एरिया को लेकर रहती है लेकिन अनुभूति ट्रेन में इस बात का ख्याल रखा गया है कि टॉयलेट साफ सुथरे हों और साथ ही इनमें आधुनिक सुविधाएं हों।इसके मद्देनजर अनुभूति कोच के टॉयलेट में हाथ धुलने के साबुन से लेकर पानी की टोटी तक में सेंसर लगाया गया है।इसके अलावा यहां पर बायो टॉयलेट भी दिया गया है टॉयलेट के बाहर इंडिकेटर दिए गए हैं ,जिससे आपको पता लगता रहेगा टॉयलेट खाली है या नहीं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top