Top

अल्पसंख्यकों में डर का नहीं बल्कि विश्वास का माहौल कायम हुआ है : नकवी    

अल्पसंख्यकों में डर का नहीं बल्कि विश्वास का माहौल कायम हुआ है : नकवी    केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ।

नई दिल्ली (भाषा)। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि अल्पसंख्यकों में डर का नहीं बल्कि विश्वास का माहौल कायम हुआ है और मोदी सरकार शिक्षा तथा रोजगार के अवसर प्रदान करके अल्पसंख्यकों के सशक्तिकरण पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

उन्होंने यह भी कहा कि 'विलाप मंडली ' के दुष्प्रचार की कोशिश करने वाले कभी सफल नहीं होंगे। नकवी ने आज अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय में कैबिनेट मंत्री के रुप में कार्यभार संभाला। कल मंत्रिपरिषद के विस्तार में उन्हें अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय में स्वतंत्र प्रभार के मंत्री से दर्जा बढ़ाते हुए कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। इस अवसर पर डॉ वीरेन्द्र कुमार ने अल्पसंख्यक कार्य राज्य मंत्री के रुप में पदभार ग्रहण किया।

उन्होंने कहा कि हमरा ध्येय अल्पसंख्यकों का तुष्टीकरण नहीं बल्कि उनका सशक्तिकरण है और हमारी सरकार इस दिशा में प्रतिबद्धता से काम कर रही है। अल्पसंख्यकों में डर का कोई माहौल नहीं है, जैसा कि दुष्प्रचार किया जा रहा है। सरकार के प्रयासों से अल्पसंख्यकों में विश्वास का माहौल कायम हुआ है।

ये भी पढ़ें:राम रहीम के सिरसा डेरे से मिला हथियारों का ऐसा जखीरा, पुलिस भी हैरान

केंद्रीय मंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि एक विलाप मंडली है और वह इस तरह का दुष्प्रचार कर रही है। उन्होंने दावा किया कि अल्पसंख्यकों को सरकार की ओर से उनके उत्थान के लिये शुरु की गई गए योजनाओं एवं किए गए कार्यों पर पूरा विश्वास है। नकवी ने हालांकि किसी का नाम नहीं लिया। उन्होंने आरोप लगाया कि ' 'आपने देखा होगा कि जब वे उत्तरप्रदेश एवं अन्य राज्यों में चुनाव हार गए तब उन्होंने ईवीएम मशीन पर आरोप लगाया। नोटबंदी के समय में उन्होंने इसी तरह का दुष्प्रचार फैलाने का काम किया। ' ' तीन तलाके बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में नकवी ने कहा कि इसका धर्म से कोई लेना देना नहीं है, बल्कि यह सामाजिक बुराई है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.