उदयपुर : PM ने राष्ट्र को समर्पित किया कोटा हैंगिंग ब्रिज, पढ़िए मोदी के भाषण की बड़ी बातें

उदयपुर : PM ने राष्ट्र को समर्पित किया कोटा हैंगिंग ब्रिज, पढ़िए मोदी के भाषण की बड़ी बातेंउदयपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

नई दिल्ली/जयपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उदयपुर से देशवासियों को महत्वपूर्ण सड़क योजनाओं का तोहफा भेंट किया। मोदी ने सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की पंद्रह हजार एक सौ करोड़ रुपए की परियोजना का शिलान्यास और लोकापर्ण किया। साथ ही उन्होंने चंबल नदी पर बना कोटा हैंगिंग ब्रिज भी राष्ट्र को समर्पित किया। पांच हजार छह सौ दस करोड़ रुपए की परियोजनाओं का निर्माण एवं 48 अन्य राष्ट्रीय राजमार्ग के सड़क सुरक्षा कार्यों का लोकापर्ण तथा नौ हजार चार सौ नब्बे करोड़ रुपए की सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया।

मोदी के भाषण की खास बातें

  • मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत राजस्थानी बोली बोल कर की। राजस्थानी भाषा में बोलते उन्होंने राजस्थान के महापुरुषों को याद किया।
  • उन्होंने कहा कि हाल ही में राजस्थान में भीषण बाढ़ आई, मैंने खुद यहां पर आकर इसका जायजा लिया था। भारत सरकार संकट की घड़ी में राज्य सरकार के साथ खड़ी है।
  • एक ही कार्यक्रम में 15,000 करोड़ रुपए की योजनाओं की शुरुआत होना एक बड़ी घटना है योजनाओं की घोषणा करना, चुनाव के समय अलग-अलग तरह की बातें करना, अखबारों में बड़ी-बड़ी फोटो छपवाना ऐसे खेल देश ने पहले भी देखे हैं, कई सालों से यही चल रहा था।
  • हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती है कि पुरानी बुराइयों को खत्म करने में बहुत ताकत लगती है। हमारे सामने ऐसे हालात छोड़कर गए हैं कि बुराईयां इतनी बढ़ गई हैं। अगर कोई ढीला इंसान होता तो शायद डर जाता लेकिन हम जरा अलग मिट्टी के बने हैं। हमें चुनौतियों को चुनौती देने की आदत है, हमारा काम देश को आगे ले जाना है।
  • 300 करोड़ से भी कम के बजट का काम 11 साल तक रुका हुआ था, सरकार-सरकार में फर्क होता है। आज 5600 करोड़ के हमारी सरकार बनने के बाद शुरू हुए जो कि पूरे हो रहे हैं। अभी तक हम गढ्ढे में पड़ी योजनाओं को पूरा कर रहे हैं, उन्हें गढ्ढे से बाहर निकालने में काफी ताकत लग रही है. मोदी बोले कि हमने एक साथ 9000 करोड़ रुपए का काम शुरू किया।
  • वाजपेयी जी ने गोल्डन चतुष्क बनाया तब लोगों ने उसकी तारीफ की थी, अगर एक बार अच्छी सड़कें बन जाएं तो आम लोगों से लेकर किसान तक की दिक्कतें दूर हो जाती हैं।
  • राजस्थान की सड़कों में पैसा उगलने की ताकत है। दुनियाभर के लोग राजस्थान में आना चाहते हैं, इसके लिए हमें अच्छा इन्फ्रास्ट्रकचर चाहिए. मोदी ने कहा कि टूरिज्म की वजह से फूल बेचने वाले, काम करने वाला और चाय बेचने वाले को भी फायदा होता है।

ये भी पढ़ें- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम बाढ़ की स्थिति की समीक्षा के लिए गुवाहाटी पहुंचे, 2,350 करोड़ रुपए का पैकेज दिया

गडकरी भी रहे साथ

उदयपुर के डबोक हवाई अड्डे राज्यपाल कल्याण सिंह, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रधानमंत्री की अगवानी की। मोदी के साथ सड़क परिवहन, राज मार्ग एवं पोत परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भी उदयपुर आए। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय राज मार्ग की ओर से लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

ये भी पढ़ें- पनामा पेपर लीक मामले पर खामोश क्यों हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: कांग्रेस

मंच पर पहुंचने पर सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री अर्जुन मेघवाल, केन्द्रीय मंत्री पी पी चौधरी तथा राजे मंत्रिमंडल के सदस्यों ने उनका स्वागत किया। कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने हाथ हिलाकर सभी का अभिवादन स्वीकार किया। मोदी बारिश के बीच कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top