किसानों को उनकी उपज के लिये बाजार उपलब्ध कराएगा राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड

राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) किसानों के सशक्तिकरण के लिए अच्छी खेती के तौर-तरीकों के बारे में जानकारी एवं प्रशिक्षण देगा। इसके साथ ही दिल्ली सहित देश के प्रमुख बाजारों तक पहुंच सुलभ कराएगा।

किसानों को उनकी उपज के लिये बाजार उपलब्ध कराएगा राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड

भुवनेश्वर। राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) किसानों के सशक्तिकरण के लिए अपने कार्यक्रमों का विस्तार करने की आज घोषणा की। इसके तहत वह अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी मदर डेयरी के फल एवं सब्जी व्यवसाय सफल के जरिए किसानों को अच्छी खेती के तौर-तरीकों के बारे में जानकारी एवं प्रशिक्षण देगा। इसके साथ ही दिल्ली सहित देश के प्रमुख बाजारों तक पहुंच सुलभ कराएगा। इस पहल का मकसद उनकी पर्याप्त आय सुनिश्चित करना है।


एक संवाददाता सम्मेलन में एनडीडीबी के अध्यक्ष दिलीप रथ ने कहा, "एनडीडीबी अपने लुक ईस्ट रणनीति के तहत मदर डेयरी के संदर्भ में ओडिशा पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। इसके तहत ओड़िशा के किसानों को अपने उत्पादों के लिए दल्लिी सहित देश के बड़े बाजार उपलब्ध होंगे और उनकी आय में खासी बढोत्तरी सुनश्चिति होगी।" उन्होंने आगे कहा एनडीडीबी का प्रयास सरकार के वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य के अनुरूप है। रथ ने कहा कि पूरब के विकास की नीति के तहत मदर डेयरी ने झारखण्ड में खाद्य प्रसंस्करण संयंत्र स्थापित किया है, जबकि वह बिहार में दूध खरीद एवं प्रसंस्करण संयंत्र स्थापित करने जा रहा है।


उन्होंने यह भी कहा कि सफल के प्रयास के तहत उड़ीसा के ढेंकनाल, मयूरभंज, क्योंझर, नयागढ आदि जगहों में मई अंत तक तैयार होने वाले दशहरी आम अब दिल्ली की ग्राहकों को जून अंत के बजाय मई अंत तक सुलभ हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि मदर डेयरी के इन प्रयासों से जहां प्रदेश के किसान सीधे तौर पर लाभन्वित हो रहे हैं। वहीं उपभोक्ताओं को खाद्य वस्तुएं लाभप्रद मूल्य पर सुलभ हो रहीं हैं। यह उपभोक्ता और किसान दोनों के लिए लाभ वाली स्थिति है। इस मौके पर मदर डेयरी फू्ड एंड वेजिटेबिल प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक डा सौगत मित्रा ने कहा, जमीनी स्तर पर हम किसानों से निरंतर संपर्क में हैं। हम उन्हें प्रशक्षिण के अलावा यथोचित सुविधाएं मुहैया करवा रहे हैं। हमें इन प्रयासों के सकारात्मक परिणाम मिलने शुरू हो गए हैं। मदर डेयरी के ज्यादा से ज्यादा किसानों तक पहुंच बनाने के लक्ष्य की ओर हम बढ रहे हैं और अभी तक देश भर में करीब 7 लाख किसानों को अपने साथ जोडा जा चुका है और इस संख्या में आगे निरंतर बढोत्तरी की जा रही है।
साभार एजेंसी

Share it
Top