नेपाल ने भारतीय सब्जियों व फलों से हटाई रोक, कहा- भारत पर भरोसा है

Mohit ShuklaMohit Shukla   10 July 2019 12:21 PM GMT

नेपाल ने भारतीय सब्जियों व फलों से हटाई रोक, कहा- भारत पर भरोसा है

गौरीफंटा। नेपाल द्वारा भारतीय सब्जियों व फलों पर लगी रोक को नेपाल सरकार ने वापस ले लिया है। नेपाल द्वारा भारतीय सब्जियों व फलो पर रोक लगने से भारतीय व्यापारियों को काफी नुकसान उठाना पड़ा था।

कैलाली जिला के जिलाधिकारी यज्ञराज बोहरा ने बताया कि भारतीय सब्जियों पर कस्टम विभाग ने अधिक मात्रा में रासायनिक उर्वरकों के प्रयोग को लेकर के अभी हाल ही में भारत से आने वाले फल सब्जी व दूध, पेय पदार्थों पर रोक लगाई थी। जिसके चलते भारतीय व्यापारियों को भारी मात्रा में आर्थिक क्षति पहुंची थी। इससे नाराज होकर व्यापारियों ने अपनी बात प्रमुखता से विदेश मंत्री के सामने रखते हुए भारतीय खाद्य सुरक्षा विभाग पर रोष जताया था।

इसे भी पढ़ें-भारत-नेपाल बॉर्डरः बिजली-सड़क, शिक्षा-स्वास्थ्य, जल-जंगल के साथ खराब नेटवर्क भी है प्रमुख मुद्दा

कैलाली भंसार के भंसार प्रमुख इसवारी ने बताया कि भारतीय सब्जियो में अधिकांश मात्रा मे विष पाया जाता था, जिसे लेकर नेपाल सरकर ने रोक लगाई थी। हालांकि अब नेपाल सरकार ने भारत सरकार पर भरोसा जताते हुये कहा कि विषयुक्त के सब्जियों की शुद्धता की जानकारी के लिए हमें भारतीय खाद्य सुरक्षा विभाग पर बहुत भरोसा है।

गौरतलब है कि भारत से रोजाना सैकड़ों ट्रक जाने वाली सब्जियों व फलों पर नेपाल सरकार ने रोक लगा दी थी। नेपाल सरकार का आरोप था कि भारत से आने वाली इन सब्जियों में मानकों से ज्यादा कीटनाशकों का प्रयोग किया गया था। रोक लगने के बाद सब्जी और फलों से लदे सैकड़ों वाहन नेपाल-भारत सीमा पर फंसे हुए थे। वहीं नेपाल के इस फैसले से भारतीय व्यापारियों को भारी नुकसान हुआ था।

नेपाल सरकार ने भारत से आने वाली सब्जियों पर रोक लैब परीक्षण के बाद लगाई थी। रिपोर्ट में बताया गया था कि भारत में पैदा होनी सब्जियों में रासायनिक पदार्थों का उपयोग बहुत ज्यादा किया जा रहा है। सरकार ने यह भी कहा कि अब भारत से लैब परीक्षण के बाद ही वे फल और सब्जियों का आयात करेंगे।

इसे भी पढ़ें-तस्वीरों में देखिये: बिहार के सरसब पाही गांव की धातु-कला

रोक के बाद सब्जी व फल के दाम आसमान पर

नेपाल सरकार द्वारा सब्जियों व फलों पर रोक के लगने के बाद से नेपाली बाजार में सब्जियों के दाम आसमान छू रहे थे। 20 रुपए किलो मिलने वाला आलू 40 रुपए किलो, टमाटर 120 रुपए किलो, प्याज 80 रुपए किलो और लौकी की कीमत 40 रुपए किलो तक पहुंच गई थी।

नेपाल में भारतीय सब्जियों व फल का 60 अरब का कारोबार

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नेपाल में सर्वाधिक आयात भारत से होता है। सोनौली व बीरगंज के रास्ते सभी प्रक्रिया पूरी कर भारतीय मालवाहक सामान लेकर नेपाल जाते हैं। नेपाल में केवल भारतीय फल-फूल, सब्जी, डिब्बा बंद दूध, एनर्जी ड्रिंक समेत अन्य खाद्य पदार्थों का सालाना कारोबार 60 अरब रुपये के आसपास कारोबार है। विषाक्त परीक्षण कराने के बाद नेपाल में प्रवेश के आदेश से सोनौली सीमा पर मालवाहकों की लंबी कतार लगी हुई थी। नेपाल में भी खाद्य पदार्थों की कीमतें तेजी से बढ़ी थीं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top