प्रद्युम्न हत्याकांड : शत्रुघ्न सिन्हा ने कैमरे के सामने पूछताछ की मांग की

प्रद्युम्न हत्याकांड : शत्रुघ्न सिन्हा ने कैमरे के सामने पूछताछ की मांग कीशत्रुघ्न सिन्हा

नई दिल्ली (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के असंतुष्ट सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने सोमवार को सात वर्षीय प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के मामलों की पूछताछ कैमरे की निगरानी में करने व 'थर्ड डिग्री की यातना नहीं देने' की मांग की। गुरुग्राम के रायन इंटरनेशनल स्कूल के कक्षा 2 के छात्र प्रद्युम्न की स्कूल में 8 सितंबर को गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। प्रद्युम्न का शव स्कूल के शौचालय में पाया गया था।

हरियाणा पुलिस ने बस कंडक्टर अशोक कुमार को प्रद्युम्न की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया था। जब जांच सीबीआई ने संभाली तो उसने कहा कि यह हत्या प्रद्युम्न के स्कूल के ही एक छात्र ने की। सिन्हा ने अपने श्रृंखलाबद्ध कई ट्वीट में कहा, "जिस गरीब आम आदमी अशोक कुमार (कंडक्टर) को हमारे बच्चे प्रद्युम्न की हत्या का आरोपी बनाया जाता है, उसे सीबीआई द्वारा छोड़ दिया जाता है। तो, ऐसे में गुरुग्राम पुलिस या जिस किसी ने भी ध्यान भटकाने के लिए उस पर (अशोक पर) आरोप लगाया था, उस पर दया नहीं होनी चाहिए और उसे उचित और कड़े से कड़े तरीके से दंडित किया जाना चाहिए।"

ये भी पढ़ें- लखनऊ में पिता ने ही की बेटी की 5 गोलियां मारकर हत्या, पढ़िए क्या था मामला

सिन्हा की यह टिप्पणी केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की जांच में हत्या मामले में नया मोड़ सामने आने के बाद आई है। सीबीआई का दावा है कि स्कूल के ही 16 साल के कक्षा 11 के एक छात्र ने प्रद्युम्न की हत्या की है। सिन्हा ने कहा, "अब कोई भी व हर पूछताछ पुलिस या सीबीआई द्वारा सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होनी चाहिए, जिससे अशोक कुमार की तरह अमानवीय यातना रोकी जाए, कोई थर्ड डिग्री नहीं होनी चाहिए।" सीबीआई ने 22 सितंबर को हरियाणा पुलिस से हत्या की जांच अपने हाथ में ली थी। सीबीआई ने 11वीं के छात्र को मंगलवार को गिरफ्तार किया था।

ये भी पढ़ें-

यूपी पुलिस ने चार साल के बच्चे को भी बनाया गुंडा

निर्भया फंड : महिलाओं की सुरक्षा के लिए मिले 3000 करोड़ रुपए, सिर्फ 400 करोड़ रुपए हुए खर्च

निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों की फांसी की सजा बरकरार, देखिए दर्द बयां करती तस्वीरें

Share it
Top