आर्ट्स के विषय लेकर पढ़ाई करना शर्म की बात नहीं : सीबीएसई टॉपर रक्षा गोपाल

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   28 May 2017 5:23 PM GMT

आर्ट्स के विषय लेकर पढ़ाई करना शर्म की बात नहीं : सीबीएसई टॉपर रक्षा गोपाललखनऊ में सीबीएसई की 12वीं कक्षा का रिजल्ट आने के बाद खुशी से झूमते रानी लक्ष्मी बाई स्कूल के छात्र व छात्राएं।

नई दिल्ली (आईएएनएस)। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के रविवार को कक्षा 12वीं के नतीजे घोषित हो गए और हर बार की तरह इस बार भी लड़कों पर लड़कियां भारी पड़ी हैं, लेकिन खास बात यह कि इस बार के तीन टॉपर तीन प्रमुख संकाय- कला, विज्ञान और वाणिज्य से हैं।

टॉपर रक्षा गोपाल ने खुद ह्यूमैनिटीज से पढ़ाई की है और वह कहती हैं कि कला (आर्ट्स) से पढ़ाई करने वाले छात्रों को कमजोर समझने की धारणा बदलनी होगी, क्योंकि आर्ट्स के विषय लेकर पढ़ाई करना शर्म की बात नहीं है।

सीबीएसई कक्षा 12वीं की टॉपर रक्षा गोपाल।

नोएडा के एमिटी स्कूल की छात्रा रक्षा गोपाल ने ह्यूमैनिटीज विषय की पढ़ाई की और कक्षा 12वीं में 99.6 फीसदी अंक हासिल किए। रक्षा के तीन विषयों में 100 अंक हैं। उन्हें पांच विषयों में 500 में से 498 अंक मिले हैं।

रक्षा ने कहा, "मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि मैंने टॉप किया है। मैंने सिर्फ अच्छे अंक हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत की थी, टॉप करने की सोची तक नहीं थी।" वह इस उपलब्धि का श्रेय अपने माता-पिता और शिक्षकों को देते हुए कहती हैं, "बड़ों के मार्गदर्शन के बिना यह संभव नहीं है। मेरे माता-पिता और शिक्षकों ने पूरा सहयोग दिया है।"

वह आर्ट्स से पढ़ाई करने वाले छात्रों को कमतर आंकने के व्यवहार के बारे में पूछने पर कहती हैं, "हां, ये सच है कि साइंस और कॉमर्स की तुलना में आर्ट्स को तवज्जो नहीं दी जाती, यह सोच बदलने की जरूरत है। इस स्ट्रीम के विषय बहुत दिलचस्प होते हैं। इसमें शर्म महसूस करने जैसा कुछ भी नहीं है।"

मैंने कभी किसी विषय का ट्यूशन नहीं लिया। जो स्कूल में पढ़ती और सीखती थी, घर पर आकर उसकी प्रैक्टिस करती थी और यही मेरी सफलता का मंत्र है।
रक्षा गोपाल टॉपर 12वीं कक्षा सीबीएसई

रक्षा का पसंदीदा विषय है राजनीति विज्ञान

रक्षा का पसंदीदा विषय राजनीति विज्ञान है और वह दिल्ली विश्वविद्यालय के लेडी श्रीराम या मिरांडा हाउस में इसी विषय में दाखिला लेना चाहती हैं। वह कहती हैं, "राजनीतिक विज्ञान मेरा पसंदीदा विषय है और अब डीयू के लेडी श्रीराम या मिरांडा हाउस में दाखिला लेना मेरी प्राथमिकता है।"

स्कूल के अलावा पांच घंटे सेल्फ स्टडी करती थीं सेकेंड टॉपर भूमि सावंत

दूसरे नंबर पर रहीं चंडीगढ़ के डीएवी स्कूल की छात्रा भूमि सावंत डे ने विज्ञान विषय में 99.4 फीसदी अंक हासिल किए हैं। इंजीनियर बनने की चाह रखने वाली भूमि स्कूल के अलावा पांच घंटे तक सेल्फ स्टडी करती थीं। उन्होंने बताया, "मुझे लगता है कि सेल्फ स्टडी बहुत जरूरी है। इससे तमाम तरह के संदेह दूर हो जाते हैं और आपका कांसेप्ट क्लियर हो जाता है।"

आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं आदित्य जैन-मन्नत लूथरा

चंडीगढ़ के भवन विद्यालय के आदित्य जैन और मन्नत लूथरा 99.2 फीसदी अंकों के साथ संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर हैं। आदित्य और मन्नत दोनों ही आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं और अपनी इस उपलब्धि का श्रेय अपनी मेहनत और माता-पिता को देते हैं।

आदित्य जैन प्रधानमंत्री मोदी के 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' अभियान के समर्थक हैं। हर बार की तरह इस बार भी लड़कियों के बाजी मारने के सवाल पर वह कहते हैं, "लड़कियां बहुत मेहनती होती हैं, मैं खुद बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ को सपोर्ट करता हूं।"

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.