संगीनों के साए में पंचकुला, गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई की विशेष कोर्ट ने दोषी करार दिया

संगीनों के साए में पंचकुला, गुरमीत राम रहीम सिंह को सीबीआई की विशेष कोर्ट ने दोषी करार दियाडेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर आज फैसला आएगा। जिसके लिए भाटिंडा में तैनात सेना।

चंडीगढ़ (भाषा)। साध्वी के यौन शोषण मामले में विशेष सीबीआई अदालत पंचकुला ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार दिया। जज जगदीप सिंह ने यह फैसला सुनाया। बाबा राम रहीम सिंह सीबीआई कोर्ट से सीधे जेल जाएंगे। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को 28 अगस्त को सजा सुनाई जाएगी।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ विशेष सीबीआई अदालत द्वारा बलात्कार मामले में सजा सुनाए जाने से पहले सेना की टुकड़ियां आज पंचकुला पहुंच गईं। गौरतलब है कि पंथ के अनुयायियों के शहर में पहुंचने के बाद किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए यहां सुरक्षा ज्यादा कड़ी कर दी गई है। डेरा प्रमुख आज सुबह नौ बजे कड़ी सुरक्षा के बीच सड़क मार्ग से सिरसा से पंचकुला पहुंच गए, 2.30 बजे सीबीआई कोर्ट फैसला सुनाएगी। अगर फैसला बाबा के खिलाफ आता है तो सात से दस साल की कैद की सजा हो सकती है। बाबा गुरमीत राम रहीम सिंह और सीबीआई के वकील भी कोर्ट रुम में पहुंचे।

केंद्रीय बलों के सहयोग से हरियाणा पुलिस डेरा अनुयायियों को शहर से बाहर निकालने में जुटी हुई है, वहीं डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह ने वीडियो के माध्यम से अपने अनुयायियों से घर वापस लौटने की अपील की है।

अधिकारियों ने बताया कि आज सुबह पंचकुला में सेना तैनात की गई है। हजारों की संख्या में डेरा अनुयायियों के शहर में जमा होने और उससे उत्पन्न तनाव को देखते हुए पंचकुला और सिरसा में सेना बुलाई गई है।

सिरसा के पुलिस अधीक्षक अश्विन शेन्वी ने कहा, ' 'सिरसा में पंथ मुख्यालय पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने फ्लैग मार्च किया ताकि रात करीब 10 बजे से अनिश्चितकाल के लिए लगाए गए कर्फ्यू को लागू किया जा सके। ' ' धारा 144 के तहत शहर में निषेधाज्ञा लगे होने के बावजूद पिछले तीन दिनों में बड़ी संख्या में डेरा अनुयायी पंचकूला में जमा हुए हैं।

हालांकि, कल देर रात पंचकूला में संवाददाताओं से बातचीत में पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि धारा 144 के तहत पहले हथियार रखने पर प्रतिबंध लगाया गया था। लेकिन बाद में पांच या ज्यादा लोगों के एक स्थान पर एकत्र होने पर भी निषेधाज्ञा लगा दी। सुरक्षा बलों को डेरा अनुयायियों को शहर से निकालने में बहुत दिक्कतें आ रही हैं क्योंकि उनका कहना कि वह अपनी मर्जी से शहर में आए हैं और पंथ प्रमुख के ' 'दर्शन' ' होने के बाद ही यहां से जाएंगे।

डेरा अनुयायियों को शहर के पार्कों, सडकों, फ्लाईओवर के नीचे और अन्य जगहों पर तंबू लगाये हुए देखा जा सकता है। हालांकि अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने जिला अदालत परिसर की ओर जाने वाली सड़क सील कर दी है और किसी को वहां से आने-जाने की अनुमति नहीं है।अधिकारी लाउडस्पीकर के माध्यम से डेरा अनुयायियों से पंचकूला से बाहर जाने की अपील कर रहे हैं।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

गुरमीत राम रहीम सिंह द्वारा कथित रुप से दो साध्वियों का यौन उत्पीड़न किए जाने संबंधी अज्ञात चिट्ठी मिलने के बाद पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के निर्देश पर सीबीआई ने 2002 में डेरा प्रमुख के खिलाफ मामला दर्ज किया था। डेरा प्रमुख ने हालांकि इन आरोपों से इनकार किया है।

Share it
Top