कुंभ मेले का यूनेस्को में सूचीबद्ध होना गर्व और खुशी की बात : मोदी  

कुंभ मेले का यूनेस्को में सूचीबद्ध होना गर्व और खुशी की बात : मोदी  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

नई दिल्ली (आईएएनएस)। हिंदू तीर्थयात्रियों के श्रद्धा के प्रतीक कुंभ मेले के यूनेस्को की मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत सूची में शामिल होने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को इसे देश के लिए गर्व और खुशी की बात बताया। मोदी ने ट्वीट कर कहा, "भारत के लिए बेहद खुशी और गर्व की बात।"

विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा था कि यूनेस्को के अंतर्गत अमूर्त सांस्कृतिक विरासत की सुरक्षा के लिए अंतरसरकारी समिति ने दक्षिण कोरिया के जेजू में 12वें सत्र के कुंभ मेले का उद्घाटन किया।

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ।

योगी ने दी प्रधानमंत्री को बधाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुम्भ मेले को यूनेस्को की इनटैन्जिबिल कल्चरल हेरिटेज लिस्ट में शामिल किे, जाने पर देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बधाई दी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व में देश नई ऊंचाइयों को छू रहा है, विश्व में भारत की एक नई पहचान बन रही है. पूरी दुनिया नेतृत्व के लिए भारत की ओर देख रही है। उन्होंने मानवता की सांस्कृतिक धरोहर की सूची में कुम्भ मेले को शामिल करने के लिए यूनेस्को को भी धन्यवाद दिया है।

ज्ञातव्य है कि कुम्भ मेला विश्व का ऐसा सबसे बड़ा आयोजन है, जहां करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु एकत्रित होकर शान्तिपूर्ण ढंग से धार्मिक परम्पराओं का पालन करते हैं, यह आयोजन इलाहाबाद, नासिक, उज्जैन तथा हरिद्वार में होते हैं। यूनेस्को ने कुम्भ मेले को सांस्कृतिक अनेकता का आयोजन माना है, जिसमें लोग आपस में ज्ञान तथा कौशल का आदान-प्रदान पाण्डुलिपियों तथा श्रुतियों के माध्यम से करते हैं।

यह पढ़ें यूनेस्को ने कुंभ मेले को भारत की सांस्कृतिक धरोहर की मान्यता दी

भारत की ओर से दो वर्षों में योग और नवरोज (पारसी नववर्ष) के बाद कुंभ मेला यूनेस्को को सूचीबद्ध किया गया है।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top