धोनी के आधार कार्ड की जानकारी ट्विटर पर साझा होने से साक्षी बुरी तरह नाराज, रवि शंकर का कार्रवाई करने का वादा 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   29 March 2017 4:28 PM GMT

धोनी के आधार कार्ड की जानकारी ट्विटर पर साझा होने से साक्षी बुरी तरह नाराज,  रवि शंकर  का कार्रवाई करने का वादा क्रिकेट खिलाड़ी महेन्द्र सिंह धोनी।

नई दिल्ली (भाषा)। नागरिकों का आधार कार्ड बनाने में भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) की मदद करने वाली एक एजेंसी ने कुछ ज्यादा उत्साहित होते हुए क्रिकेट खिलाड़ी महेन्द्र सिंह धोनी के आधार कार्ड की जानकारी को ट्विटर पर शेयर कर दिया। इस प्रकरण पर कार्रवाई करते हुए यूआईडीएआई सीईओ ने कहा कि भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने क्रिकेट खिलाड़ी एमएस धोनी की आधार प्राप्ति रसीद लीक करने के मामले में संबंधित केंद्र को 10 साल के लिए काली सूची में डाला।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

केंद्रीय कानून, सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद को धोनी की पत्नी साक्षी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है, मंत्री ने इस बारे में कार्रवाई करने का वादा किया है।

एजेंसी के कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) ने कल अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘‘क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी और उनके परिवार ने वीएलई मारिया फारुकी के सीएसई रांची, झारखंड के केंद्र से अपना आधार कार्ड अपडेट कराया।''

इस ट्वीट में मंत्री रवि शंकर प्रसाद को भी टैग किया गया था। ट्वीट में सीएसई प्रतिनिधि के साथ एक फोटो भी शेयर किया गया था। यही नहीं, इसमें क्रिकेटर की निजी जानकारियां भी थी। बाद में इस ट्वीट को हटा लिया गया।

महेन्द्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी ने इस बारे में ट्वीट किया था, ‘‘क्यां कुछ निजता बची हुई है? आधार कार्ड की जानकारी और आवेदन समेत को सबको सार्वजनिक कर दिया गया है।''

मंत्री ने साक्षी को इस मुद्दे को संज्ञान में लाने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, ‘‘निजी जानकारी साझा करना गैरकानूनी है, कड़ी कार्रवाई की जाएगी।''

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top