आतंकियों ने जिसका घर जलाया वह कश्मीरी लड़का जम्मू कश्मीर प्रशासनिक सेवा का टॉपर बना : मोदी  

आतंकियों ने जिसका घर जलाया वह कश्मीरी लड़का जम्मू कश्मीर प्रशासनिक सेवा का टॉपर बना : मोदी  मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

नई दिल्ली (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में सकारात्मक बदलाव के लिए काम कर रहे लोगों का जिक्र करते हुए जम्मू कश्मीर प्रशासनिक सेवा परीक्षा में अव्वल रहे छात्र अंजुम बशीर खान खट्टक की विपरीत हालात से उबर कर सफलता की कहानी को प्रेरणाप्रद बताया।

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में आज कहा ऐसे अनेक लोग हैं जो अपने-अपने स्तर पर ऐसे कार्य कर रहे हैं, जिनसे कई लोगों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आ रहा है। वास्तव में, यही तो न्यू इंडिया है जिसका हम सब मिल कर निर्माण कर रहे हैं। मोदी ने इन्हीं छोटी-छोटी खुशियों के साथ सकारात्मक भारत से प्रगतिशील भारत की दिशा में मजबूत कदम बढ़ाते हुए देशवासियों से नववर्ष में प्रवेश का आह्वान किया।

ये भी पढ़ें- युवाओं को राज्य तंत्र की जानकारी के लिए जिला स्तर पर ‘मॉक पार्लियामेंट’ करने का मन की बात में मोदी का सुझाव  

इस साल के अंतिम मन की बात कार्यक्रम में मोदी ने कहा जब हम सकारात्मकाता की बात करते हैं तो मुझे भी एक बात साझा करने का मन करता है। हाल ही में मुझे कश्मीर के प्रशासनिक सेवा में अव्वल रहे अंजुम बशीर खान खट्टक की प्रेरणादायी कहानी के बारे में पता चला। प्रधानमंत्री ने कहा कि अंजुम ने आतंकवाद और घृणा के दंश से बाहर निकल कर कश्मीर प्रशासनिक सेवा की परीक्षा में शीर्ष स्थान प्राप्त किया है जबकि साल 1990 में आतंकवादियों ने उनके पैतृक-घर को जला दिया था।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

आतंकवाद के कारण विस्थापन को विवश हुए अंजुम के परिवार की दास्तान बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, एक छोटे बच्चे के लिए उसके चारों ओर इतनी हिंसा का वातावरण, दिल में अंधकार और कड़वाहट पैदा करता है पर अंजुम ने ऐसा नहीं होने दिया। उन्होंने कभी आशा नहीं छोड़ी।

ये भी पढ़ें- गणतंत्र दिवस पर एक नहीं बल्कि दस मुख्य अतिथि होंगे : मोदी

उन्होंने अपने लिए एक अलग रास्ता चुना जनता की सेवा का रास्ता। विपरीत हालात से उबर कर सफलता की अपनी कहानी खुद लिखने वाले अंजुम को मोदी ने जम्मू और कश्मीर ही नहीं बल्कि पूरे देश के युवाओं के लिए प्रेरणाप्रद बताया।

ये भी पढ़ें- प्यारे मोदी भक्तों स्मार्ट सिटी के लिए सिर्फ 7 फीसदी खर्च किया सरकार ने : राहुल गांधी 

उन्होंने कहा कि अंजुम ने साबित कर दिया है कि हालात कितने ही खराब क्यों न हों, सकारात्मक कार्यों से निराशा के बादलों को भी ध्वस्त किया जा सकता है। प्रधानमंत्री ने पिछले सप्ताह जम्मू-कश्मीर की कुछ बच्चियों से अपनी मुलाकात का जिक्र करते हुए कहा कि उनमें दिखे जज्बा, उत्साह और सपने बता रहे थे कि वे जीवन में कैसे-कैसे क्षेत्र में प्रगति करना चाहती हैं। उनके साथ बिताये समय को स्वयं अपने लिये प्रेरणा का स्रोत बताते हुए मोदी ने कहा ये ही तो देश की ताकत हैं , ये ही तो मेरे युवा हैं, ये ही तो मेरे देश का भविष्य हैं।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top