मुंबई भगदड़ के मृतकों के परिजनों को रेलवे और महाराष्ट्र सरकार पांच-पांच लाख रुपए देगी मुआवजा 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   29 Sep 2017 4:37 PM GMT

मुंबई भगदड़ के मृतकों के परिजनों को रेलवे और महाराष्ट्र सरकार पांच-पांच लाख रुपए देगी मुआवजा मुंबई में परेल-एल्फिंस्टन स्टेशनों को जोड़ने वाले संकरे रेलवे फुटओवर ब्रिज पर मची भगदड़ के बाद का दृश्य।

मुंबई (आईएएनएस)। सुबह भारी वर्षा के बीच मुंबई में एल्फिंस्टन रोड और परेल उपनगरीय रेलवे स्टेशनों को जोड़ने वाले फुटओवर ब्रिज पर आज मची भगदड़ में मारे गए 22 लोग के परिजनों को रेलवे व महाराष्ट्र सरकार पांच-पांच लाख रुपए का मुआवजा देगी।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने मृतकों के परिजन को पांच लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को एक लाख रुपए और अन्य घायलों को 50,000 रुपए सहायता राशि देने की घोषणा की है। वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने भगदड़ में मारे गए सभी लोगों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए की मुआवजा सहायता राशि देने तथा घायलों का इलाज सरकारी खर्च पर कराने की घोषणा की है।

मुंबई में परेल-एल्फिंस्टन स्टेशनों को जोड़ने वाले एक संकरे रेलवे फुटओवर ब्रिज पर मची भगदड़ में 22 यात्रियों की मौत हो गई है। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) आपदा नियंत्रण ने कहा कि इस घटना में कम से कम 32 लोग घायल हो गए हैं, जिनमें से छह की हालत गंभीर है और मृतकों का आंकड़ा बढ़ने की आशंका है।

बीएमसी के एक अधिकारी ने बताया कि मृतकों में 18 पुरुष व चार महिलाएं शामिल हैं। जबकि 23 पुरुष व नौ महिलाएं घायल हैं, जिनका इलाज जारी है। घायलों को परेल के कीईएम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नई दिल्ली में रेलवे बोर्ड एक अधिकारी ने दुर्घटना की जांच की घोषणा की है।
घटना के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

अधिकारियों ने हालांकि अचानक बारिश होने से पुल पर भारी संख्या में लोगों की भीड़ को जिम्मेदार ठहराया है। बारिश से बचने के लिए अधिक संख्या में लोग पुल पर इकट्ठा हो गए थे।
घटना के बाद बचाव दल के मौके पर पहुंचने से पहले स्थानीय कैब चालकों और दुकानदारों ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की।

महाराष्ट्र सरकार ने मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजा और घायलों को मुफ्त इलाज देने की घोषणा की है। महाराष्ट्र के शिक्षामंत्री विनोद तावड़े ने कहा, "हमने इस त्रासदी की जांच के आदेश दिए हैं।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना जताई है। यह त्रासदी रेल मंत्री पीयूष गोयल के शुक्रवार को मुंबई पहुंचने से ठीक पहले हुई। गोयल यहां पश्चिम रेलवे, मध्य रेलवे और हार्बर रेल लाइन के लिए कई नई उपनगर रेल सेवाओं की शुरुआत करने वाले थे।

इस दुर्घटना के बाद पीयूष गोयल ने उद्घाटन कार्यक्रम रद्द कर दिए।

वहीं, शिवसेना ने इस घटना पर अपनी त्वरित प्रतिक्रिया में पीयूष गोयल से इस्तीफे की मांग की है और साथ ही सभी पीड़ितों को पर्याप्त मुआवजा और मुंबई के यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल उपायों को प्राथमिकता देने के लिए भी कहा है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

घटनास्थल पर पहुंचे मुंबई के महापौर विश्वनाथ महादेश्वर ने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी पश्चिम रेलवे के अधिकारियों की है। दशहरा से एक दिन पहले हुए इस हादसे के खिलाफ सोशल मीडिया पर लोग तीखी प्रतिक्रिया जता रहे हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top