Top

संसद का शीतकालीन सत्र सार्थक होगा, प्रधानमंत्री मोदी को उम्मीद 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   15 Dec 2017 12:53 PM GMT

संसद का शीतकालीन सत्र सार्थक होगा, प्रधानमंत्री मोदी को उम्मीद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली (भाषा)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज उम्मीद व्यक्त की कि संसद का शीतकालीन सत्र सार्थक होगा जहां दूरगामी प्रभाव पैदा करने वाले सरकार के महत्वपूर्ण कामकाज पर संसद में अच्छी एवं सकारात्मक चर्चा होगी।

संसद का शीतकालीन सत्र आज से शुरू हो गया है पर दिवंगत वर्तमान सदस्यों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद लोकसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दिया गया। वहीं शरद यादव और अली अनवर अंसारी को राज्यसभा से अयोग्य घोषित करने के खिलाफ विपक्ष के हंगामे के कारण उच्च सदन की बैठक दोपहर बारह बजे तक स्थगित कर दी गई है।

संसद भवन।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सदस्यों के नवोन्मेषी सुझाव से संसद का उपयोग देश की समस्याओं के समाधान में हो सकेगा।

प्रधानमंत्री ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, संसद का हमारा शीतकालीन सत्र शुरु हो रहा है, मुझे विश्वास है कि 2017 में प्रारंभ हो रहा यह शीतकालीन सत्र, जो 2018 तक चलेगा, उसमें सरकार के कई महत्वपूर्ण कामकाज सदन में आएंगे जो दूरगामी प्रभाव पैदा करने वाले हैं। इसमें अच्छी बहस हो, सकारात्मक बहस हो, नवोन्मेषी सुझावों के साथ बहस हो, तो संसद के समय का उपयोग देश की समस्याओं के निवारण के लिए अधिक कारगर ढंग से हो सकेगा।

उल्लेखनीय है कि सत्र के दौरान 25 लंबित विधेयक और 14 नए विधेयक पेश किए जाने की उम्मीद है जिसमें तीन तलाक से संबंधित एक विधेयक भी शामिल हैं। मोदी ने कहा कि आमतौर पर दिवाली के साथ-साथ ठंड का मौसम भी प्रारंभ हो जाता है. लेकिन ग्लोबल वार्मिंग, जलवायु परिवर्तन इसका प्रभाव है कि अभी भी ठंड उतनी मात्रा में अनुभव नहीं हो रही है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

प्रधानमंत्री ने कहा कि कल भी हमारी सर्वदलीय बैठक हुई, उसमें भी स्वर यही है कि देश को आगे बढ़ाने की दिशा में इस सदन के सत्र का उपयोग सकारात्मक रुप से हो। मैं भी आशा करता हूं, कि सकारात्मक रुप से सदन का सत्र चलेगा, देश लाभान्वित होगा, लोकतंत्र मजबूत होगा, सामान्य मानव की आशा, आकांक्षाओं को परिपूर्ण करने में एक नया विश्वास पैदा होगा।

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.