बेरोजगारों के लिए खुशखबरी : सिर्फ दसवीं पास भी कर सकेंगे रेलवे के लेवल-1 पद के लिए आवेदन

बेरोजगारों के लिए खुशखबरी : सिर्फ दसवीं पास भी कर सकेंगे रेलवे के लेवल-1 पद के लिए आवेदनपीयूष गोयल, ऊर्जा मंत्री

नयी दिल्ली। रेलवे ने कुलियों, गेटमैन, हेल्पर और लेवल एक में अन्य नौकरियों के लिए आवेदन करने वालों के लिए पिछले साल तक पालन किए जाने वाले नियमों में छूट दी।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इन नौकरियों के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों से कहा कि उन्हें सिर्फ दसवीं पास होना चाहिए। रेलवे ने भर्ती विज्ञापन में लेवल एक के 62,907 पदों के लिए न्यूनतम योग्यता कक्षा 10 और रेलवे एप्रेंटिसशिप या समकक्ष का आईटीआई प्रमाणपत्र का मानक रखा था लेकिन अब तकनीकी प्रमाणन को वैकल्पिक बना दिया गया है। लेवल एक में पटरी रख-रखाव, प्वाइंट मैन, हेल्पर, गेट मैन, कुली और अन्य के पद हैं।

ये भी पढ़ें- दिल टूटने वालों की जान बचाने में काम आने वाली स्टेंट पर रहेगी सरकार की निगाहें

ये भी पढ़ें- यूपी में मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर दुर्घटना रोकने के लिए तैनात होंगे होमगार्ड 

ये भी पढ़ें- खुशखबरी : रेलवे ने 90 हजार पदों के लिए मांगे आवेदन, अंतिम तिथि 12 मार्च  

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, हमें एहसास हुआ कि हमने उम्मीदवारों को पर्याप्त समय नहीं दिया है कि वे समझ सकें कि मानदंड बदल गया है, ऐसे में हमें कक्षा दसवीं की योग्यता की जरूरत है। हमें प्रशक्षिण कार्यक्रम को मजबूत करना है जिसे हमारी आगे मजबूत करने की योजना है। ऐसे में कोई समस्या नहीं होगी।

ये भी पढ़ें- लूट कहीं भी हो भरपाई जनता करेगी : ममता बनर्जी

ये भी पढ़ें- अगर आप हैं बेरोजगार तो सरकार की इस वेबसाइट पर कराइये रजिस्ट्रेशन, मिल सकती है नौकरी

इससे एक दिन पहले ही रेलमंत्री पीयूष गोयल ने एक और अच्छा निर्णय लिया था। रेलवे भर्ती परीक्षा को लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि परीक्षा फीस बढ़ाने का फैसला इसलिए किया गया क्योंकि फीस कम होने से कोई भी व्यक्ति आवेदन कर देता है। जिससे सरकार को नुकसान होता है। लेकिन इस बार सरकार ने फैसला किया है कि फीस बढ़ाई जाए जिससे गंभीर उम्मीदवार ही परीक्षा दें। उन्होंने कहा कि परीक्षा देने वाले उम्मीदवार की बढ़ी हुई फीस वापस कर दी जाएगी।

गौरतलब है कि इस बार परीक्षा के लिए अनुसूचित जाति और जनजाति के वर्गों को 250 रुपए फीस देनी होगी। पहले उन्हें फीस नहीं देनी होती थी। इसी तरह सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को 500 रुपए फीस देनी होगी। अब जो आरक्षित वर्ग के उम्मीदवार परीक्षा में बैठेंगे उनकी पूरी फीसी वापस कर दी जाएगी जबकि सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के 500 में से 400 रुपए वापस कर दिए जाएंगे।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top