‘2020 तक टीवी के आधे दर्शक मोबाइल पर देखेंगे कार्यक्रम’

‘2020 तक टीवी के आधे दर्शक मोबाइल पर देखेंगे कार्यक्रम’‘50 फीसदी से ज्यादा लोग साल 2020 तक मोबाइल फोन पर टीवी और वीडियो देखेंगे।’

नई दिल्ली (आईएएनएस)। साल 2020 में टीवी और वीडियो देखनेवाले आधे दर्शक इसे मोबाइल स्क्रीन (लैपटॉप, स्मार्टफोन और टैबलेट) पर देखेंगे, जो कि साल 2010 के मुकाबले 85 फीसदी की वृद्धि होगी।

एरिक्सन द्वारा किए गए अध्ययन में यह अनुमान लगाया गया है, जिसे सोमवार को जारी किया गया। इसमें कहा गया है कि 50 फीसदी से ज्यादा लोग साल 2020 तक मोबाइल फोन पर टीवी और वीडियो देखेंगे।

यह भी पढ़ें- 349 का प्लान लाकर जियो को टक्कर दे रहा है रिलायंस कम्युनिकेशंस

एरिक्सन के कन्ज्यूमरलैब टीवी और मीडिया रिपोर्ट के आठवें संस्करण में कहा गया है कि टीवी और वीडियो सामग्री देखने का समय अब सप्ताह में 30 घंटे की नई ऊंचाई पर पहुंच गया है। इसमें लिनियर टीवी, लाइव और ऑन डिमांड इंटरनेट सेवाएं, डाउनलोडेड और रिकार्डेड सामग्री तथा डीवीडी और ब्लू-रे पर देखी जानेवाली सामग्री शामिल हैं। इस अध्ययन में यह भी कहा गया है कि साल 2020 तक वर्चुअल रियलिटी (वीआर) बेहद आम होगा और तीन में एक उपभोक्ता वीआर का उपभोक्ता होगा।

यह भी पढ़ें- अगर जियो सिम से एक दिन में 300 मिनट से ज्यादा करते हैं बात, तो बंद हो सकती है आपकी वॉयस कॉलिंग सेवा

एरिक्सन कंज्यूमर लैब के वरिष्ठ सलाहकार एंडर्स अरलैंडसन ने बताया, "इस साल पहली बार हमने वीआर में उपभोक्ताओं की रुचि के स्तर का मीडिया खपत के संयोजन में पता लगाया है और इसके निष्कर्ष आकर्षक हैं।" अरलैंडसन ने कहा, "वीआर में दुनिया भर के लोगों को साथ लाने की क्षमता है और गहरा, अधिक व्यक्तिगत और अधिक पूरक मीडिया अनुभव मुहैया कराने की क्षमता है।"

यह भी पढ़ें- जियो को टक्कर देने बाजार में आया ये फोन

Share it
Top