महाकौशल एक्सप्रेस हादसे के पीछे पटरियों में दरार का होना है: रेलवे 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   30 March 2017 6:06 PM GMT

महाकौशल एक्सप्रेस हादसे के पीछे पटरियों में दरार का होना  है: रेलवे महोबा स्टेशन के नजदीक महाकौशल एक्सप्रेस की आठ बोगियां पलटी हुई।

नई दिल्ली (भाषा)। उत्तर प्रदेश में महोबा स्टेशन के नजदीक आज महाकौशल एक्सप्रेस की आठ बोगियों के पटरी से उतरने के पीछे प्रथम दृष्टया रेल की पटरियों में दरार होना प्रतीत हो रहा है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने एक कार्यक्रम के इतर कहा, ‘‘मंडल रेलवे प्रबंधक के अनुसार, प्रथम दृष्टया ऐसा लग रहा है कि बाईं ओर नई दरार की मरम्मत ना करने के कारण ट्रेन पटरी से उतर गई।'' नई दरार का मतलब है कि यह पुरानी दरार नहीं है और अचानक दरार आई तथा इसका पता नहीं चल सका।

उत्तर प्रदेश के एडीजी (कानून एवं व्यवस्था) दलजीत चौधरी ने कहा कि हादसे में 52 यात्री घायल हुए है जबकि मनोज सिन्हा ने कहा कि 21 यात्री घायल हुए हैं जिनमें से एक की हालत गंभीर है।

उत्तर प्रदेश में महोबा स्टेशन के नजदीक यह हादसा हुआ। झांसी मंडल के डीआरएम और उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक हादसे के बाद बचाव एवं राहत अभियान का जायजा लेने घटनास्थल पर पहुंचे।

रेलवे ने घायलों के लिए मुआवजे का ऐलान किया

रेलवे ने महाकौशल एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतर जाने की वजह से गंभीर रूप से जख्मी हुए लोगों को 50,000 रुपए और मामूली रूप से जख्मी हुए लोगों को 25,000 रुपए का मुआवजा देने का ऐलान किया है।

रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि दुर्घटना की वजह से मार्ग पर रेल यातायात बाधित हो गया और 14 ट्रेने बाधित हुई हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top