Top

धूम्रपान करता जंगली हाथी, वैज्ञानिकों-विशेषज्ञों में कौतूहल 

Sanjay SrivastavaSanjay Srivastava   27 March 2018 11:43 AM GMT

धूम्रपान करता जंगली हाथी, वैज्ञानिकों-विशेषज्ञों में कौतूहल धूम्रपान करता देखा गया जंगली हाथी....

नई दिल्ली। कभी आपने धूम्रपान करता हुआ हाथी देखा है, वो भी जंगल में। शायद, आपके जीवन में ऐसा मौका कभी आया हो, हां सर्कस में हो सकता है कि आपने देखा होगा। पर आप इस चित्र में देख सकते हैं किस मस्ती के साथ यह हाथी जंगल में धूम्रपान कर रहा है। इसका एक वीडियो भी बनाया गया है....इसे भी आप देख सकते हैं....मामला कुछ तरह है...

सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब देखा और साझा किया जा रहा है, जिसमें एक जंगली हाथी को धूम्रपान करते देखा जा सकता है। वीडियो बनाने वाले संगठन का कहना है कि यह हाथी संभवत: चारकोल यानी लकड़ी का कोयला खा रहा था और उस राख को उड़ा रहा था जो चारकोल के साथ उसके सूंड में आई थी।

वीडियो आप यहां देख सकते हैं

(साभार यूएनआई)

वन्यजीव संरक्षण सोसाइटी (डब्ल्यूसीएस) ने बताया कि संगठन के इंडिया प्रोग्राम के सहायक निदेशक विनय कुमार ने यह वीडियो बनाया, जिससे जंगली हाथियों के व्यवहार का एक नया पहलू सामने आया है। यह वीडियो अप्रैल-2016 में कर्नाटक के नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान में उस वक्त बनाया गया जब डब्ल्यूसीएस इंडिया प्रोग्राम की एक टीम बाघों और उनके शिकार पर नजर रखने की परियोजना पर काम कर रही थी। यह वीडियो सोशल मीडिया साइटों पर खूब साझा किया गया है और इसे देखने के बाद हाथियों के व्यवहार पर भी हालिया दिनों में काफी चर्चा हुई है।

डब्ल्यूसीएस की ओर से जारी एक बयान में दावा किया गया, हमारे सहकर्मी विनय कुमार ने एक जंगली एशियाई हाथी का वीडियो बनाया, जिसमें वह धूम्रपान करता हुआ नजर आ रहा है। ऐसा लगता है कि वह चारकोल खा रहा है और राख को बाहर फेंक रहा है।

बयान के मुताबिक, यह किसी जंगली हाथी का पहला ज्ञात वीडियो है जिसमें वह इस तरह का व्यवहार कर रहा है और इस कारण वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों में कौतूहल है।

डब्ल्यूसीएस इंडिया प्रोग्राम के हाथी जीव- विज्ञानी एवं वरिष्ठ वैज्ञानिक वरुण आर गोस्वामी ने बताया कि इस बात की पूरी संभावना है कि हाथी लड़की का कोयला (चारकोल) खाने की कोशिश कर रहा है, क्योंकि वह जंगल में जली हुई जमीन से कुछ उठाता दिख रहा है, फिर सूंड में आई राख को बाहर फेंक रहा है और फिर बची हुई चीजों को खा रहा है।

बयान में कहा गया कि चारकोल अपने कुछ विशेष गुणों के लिए जाना जाता है, जिससे जंगली पशु उसकी ओर आकर्षित होते हैं। इसमें पशुओं के लिए औषधीय गुण भी पाए जाते हैं, इसलिए जंगल में आग लगने या बिजली गिरने या झुलसने पर वे इसका उपभोग करते हैं।

सहायक निदेशक विनय कुमार ने बताया कि जब वह वीडियो बना रहे थे उस वक्त हाथी और धूम्रपान के बारे में उन्हें कुछ खास लगा और बाद में वह इस घटना को भूल गए। उन्होंने बताया कि हाल में जब वह अपने रिकॉर्ड देख रहे थे तो एक बार फिर उनकी नजर उस वीडियो पर पड़ी। कुमार ने कहा, मैंने गोस्वामी से इस बारे चर्चा की और फिर फैसला किया गया कि हम इसे जारी करेंगे। बयान में कहा गया कि अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों और प्रकाशनों ने यह वीडियो खूब साझा किया है।

देश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इनपुट भाषा

फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.