कर्ज लौटाने में कोई चूक नहीं, कुल ऋण में 2,000 रुपये की कमी लाने को भरोसा: जैन इरिगेशन

कर्ज लौटाने में कोई चूक नहीं, कुल ऋण में 2,000 रुपये की कमी लाने को भरोसा: जैन इरिगेशन

लखनऊ (भाषा)। सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली, पीवीसी पाइप जैसे उत्पाद बनाने वाली जैन इरिगेशन ने बृहस्पतिवार को जोर देकर कहा कि उसने कर्ज लौटाने में कोई चूक नहीं की। कंपनी ने यह भी कहा कि उसकी कुल कर्ज में 2,000 करोड़ रुपये की कमी लाने की योजना है।

महाराष्ट्र के जलगांव की कंपनी ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि उसका कर्ज इक्विटी अनुपात 1:1.1 है और उसका नेटवर्थ 4,561 करोड़ रुपये है। इसमें अनिवार्य परिवर्तनीय डिबेंचर शामिल है। बाजार में फैली अफवाह को दूर करने और विभि‍न्न निवेशक समूह के सवालों के जवाब में जैन इरिगेशन ने कहा, हम यह साफ करना चाहते हैं कि कंपनी ने कर्ज लौटाने में कोई चूक नहीं की है।

इसे भी पढ़ें- देश में सूखा: जलशक्ति मंत्रालय की निश्चिंतता कहीं भारी ना पड़े

कंपनी ने 30 मई को निदेशक मंडल की बैठक के बाद कुल कर्ज में 2,000 करोड़ रुपये की कमी लाने के नि‍र्णय के बारे में जानकारी दी थी। जैन इरिगेशन ने कहा कि कंपनी को इन योजनाओं के क्रियान्वयन को लेकर भरोसा है। कंपनी के सभी कामकाज जारी हैं।

एक अप्रैल की स्थिति के अनुसार कंपनी के पास 5,000 करोड़ रुपये मूल्य से अधिक के आर्डर थे। उसके कारखानों की संख्या 33 है जो दुनियाभर में हैं। जैन इरिगेशन सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली, पीवीसी और एचडीपीई पाइप, प्लास्टिक की चादरें, कृषि प्रसंस्कृत उत्पाद, अक्षय ऊर्जा समाधान जैसे उत्पाद बनाती है।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top