Top

अब 31 जनवरी से देश भर में शुरू होगा पोलियो टीकाकरण अभियान

तमाम अटकलों के बीच आखिरकार सरकार ने कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम के बीच देश भर में पोलियो अभियान शुरू करने का फैसला लिया है। इससे पहले सरकार ने 17 जनवरी से पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम को अगले आदेश तक स्थगित कर दिया था।

अब 31 जनवरी से देश भर में शुरू होगा पोलियो टीकाकरण अभियानइस बार देश भर में 31 जनवरी से शुरू होगा पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम । फोटो साभार : आईएएनएस

देश में 16 जनवरी से कोरोना टीकाकरण की तैयारियों के बीच सरकार ने देश भर में पोलियो टीकाकरण अभियान को आखिरकार 31 जनवरी से शुरू करने का फैसला लिया है। इससे पहले 17 जनवरी से शुरू होने वाले पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम को सरकार ने अप्रत्याशित कारणों की वजह से अगले आदेश तक स्थगित कर दिया था।

माना जा रहा था कि सरकार ने 16 जनवरी से शुरू होने वाले कोरोना टीकाकरण अभियान को लेकर रूटीन टीकाकरण कार्यक्रम में पोलियो अभियान को स्थगित किया था। हालांकि इससे पहले 08 जनवरी को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने भी तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 17 जनवरी से पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम की देश भर में शुरू करने की घोषणा की थी।

आज स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से घोषणा की गई कि पोलियो टीकाकरण अभियान को 31 जनवरी से देश भर में शुरू किया जाएगा और 30 जनवरी को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद राष्ट्रपति भवन से कुछ बच्चों को पोलियो ड्राप पिलाकर पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से यह भी कहा गया कि यह निर्णय स्वास्थ्य मंत्रालय की घोषित नीति के अनुसार लिया गया है ताकि कोविड प्रबंधन और टीकाकरण सेवाओं के साथ अन्य गैर कोविड आवश्यक सेवाएँ प्रभावित न हों और एक-दूसरे पर बिना प्रतिकूल प्रभाव डाले आगे बढ़ती रहें।

इससे पहले 16 जनवरी से शुरू हो रहे कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आठ जनवरी को तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई का दौरा किया। इस दौरान डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना टीकाकरण के साथ 17 जनवरी से राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस के मौके पर भारत में पोलियो अभियान शुरू किया जाएगा। हालांकि इसके एक दिन बाद ही नौ जनवरी को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम अप्रत्याशित कारणों से अगले आदेश तक स्थगित कर दिया गया।

पोलियो अभियान के स्थगित किये जाने पर देश के कई स्वास्थ्य संगठन, जन स्वास्थ्य संगठनों, वैज्ञानिकों ने सरकार के इस फैसले का विरोध जताया और साल भर बाद भी कोरोना टीकाकरण को लेकर नित समय पर होने वाले अन्य टीकाकरण कार्यक्रमों पर प्रभाव पड़ने पर सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किये।

पोलियो अभियान स्थगित किये जाने को लेकर सरकार के फैसले पर आल इंडिया पीपल्स साइंस नेटवर्क के पूर्व अध्यक्ष और वर्तमान कार्यकारी सदस्य डी. रघुनंदन 'गाँव कनेक्शन' ने कहा, "कोरोना वायरस के साल भर बाद भी अगर हमारे देश की स्वास्थ्य व्यवस्था पर असर पड़ रहा है तो आने वाले समय में इसके हमें बुरे नतीजे देखने को मिलेंगे। देश के पब्लिक हेल्थ विशेषज्ञों, वैज्ञानिकों और स्वास्थ्य संगठनों ने कोरोना से इतर अन्य बीमारियों पर ध्यान दिए जाने को लेकर सरकार को पहले भी चेताया था, कोरोना की वजह से अन्य टीकाकरण अभियानों पर पहले भी असर पड़ा है और अब अगर पोलियो अभियान किया जाता है तो यह सही नहीं है, सरकार को दोनों अभियानों को साथ चलाना चाहिए।"

हालांकि आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से अब बच्चों को पोलियो ड्राप पिलाए जाने का अभियान 31 जनवरी से शुरू किये जाने का निर्णय किया गया है। पोलियो टीकाकरण कार्यक्रम के तहत देश भर में लाखों बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जाती रही है।

यह भी पढ़ें :

आखिर सरकार ने क्यों रोका पोलियो टीकाकरण अभियान ?

कोरोना वैक्सीन के लिए जरूरी होगा पंजीकरण, जानिए कौन से दस्तावेज होंगे जरूरी और कैसे लगेगी वैक्सीन



Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.