ओखी चक्रवात ने लिया और खतरनाक रूख

ओखी चक्रवात ने लिया और खतरनाक रूखशुक्रवार को यह चक्रवात अरब सागर में आगे बढ़ गया।

लखनऊ। तमिलनाडु और केरल को चपेट में लेने वाले ओखी चक्रवात ने प्रचंड रूप ले लिया है। शुक्रवार को यह चक्रवात अरब सागर में आगे बढ़ गया। चक्रवात के कारण अब तक 16 लोगों के मारे जाने की खबर है वहीं समुद्री लहरों में फंस गए 200 मछुआरों को सेना द्वारा बचाया गया है। तिरुवनंतपुरम के जिला आयुक्त के वासुकी ने बताया कि केरल के दक्षिणी जिलों से समुद्र में गए करीब 150 मछुआरों को बचाया जा चुका है।

तमिलनाडु और केरल में गुरुवार से हो रही तेज बारिश में दोनों राज्यों के नौ लोगों की मौत हो चुकी है। तमिलनाडु में शुक्रवार को और एक आदमी की मौत होने से राज्य में वर्षा जनित घटनाओं में मरने वालों की संख्या पांच हो गई है। राज्य के मुख्यमंत्री के पलानीस्वमी ने प्रत्येक मृतकों के आश्रित को चार-चार लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।

ये भी पढ़ें- ओखी: चक्रवात से 4 नाविक और 13 बोट गायब, नेवी ने उतारे 5 जहाज

दक्षिण अंडमान सागर में निम्न दाब का क्षेत्र बना

दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर निम्न दाब का क्षेत्र बन गया है। अगले 48 घंटे में यह दबाव का रुख अख्तियार कर सकता है और तमिलनाडु में और वर्षा हो सकती है। क्षेत्रीय मौसम केंद्र के निदेशक एस. बालचंद्रन ने शुक्रवार को कहा कि अगले चार दिनों में यह उत्तरी तमिलनाडु और दक्षिणी आंध्र तट की तरफ बढ़ सकता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top