मध्य प्रदेश में एक और किसान ने की आत्महत्या

मध्य प्रदेश में एक और किसान ने की आत्महत्यामंगलवार की देर रात खरगौन जिले में कीटनाशक पीने वाले एक और किसान की मौत हो गई।

खरगौन (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में कर्ज़, सूदखोरों और फसल की बर्बादी से परेशान होकर किसानों की आत्महत्या का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले 31 दिनों में यहां 46 किसान आत्महत्या कर चुके हैं। मंगलवार की देर रात खरगौन जिले में कीटनाशक पीने वाले एक और किसान की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें : कर्ज माफी के ऐलान के बाद भी आखिर क्यों जारी है किसानों की आत्महत्या का सिलसिला ?

भीकनगांव थाने से मिली जानकारी के अनुसार, जिला अस्पताल खरगोन में भर्ती अंजनगांव निवासी किसान ताके सिंह (50) की मौत हो गई है। उन्होंने करीब आठ दिन पहले कीटनाशक पी लिया था, जिससे उनकी हालत बिगड़ गई थी। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां बीती रात उनकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें : ‘प्रिय मीडिया, किसान को ऐसे चुटकुला मत बनाइए’

परिजनों का आरोप है कि ताके सिंह की मिर्ची की फसल खराब हो गई थी और कर्ज भी था, जिससे वह कई दिनों से तनाव में थे। उसने कीटनाशक पीकर खुदकुशी कर ली। वहीं, भीकनगांव के थाना प्रभारी अजीत सिंह का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है, उसके बाद ही आत्महत्या की वजह का खुलासा हो पाएगा।

Share it
Top