जब पाकिस्तानी ब्लॅागर से पूछा गया, मालूम है तुमको क्यों पकड़ा गया है...

जब पाकिस्तानी ब्लॅागर से पूछा गया, मालूम है तुमको क्यों पकड़ा गया है...आसिम सईद।

लखनऊ। एक पाकिस्तान ब्लॉगर आसिम सईद का साल की शुरूआत में अपहरण कर लिया गया था। जिसके कुछ सप्ताह बाद उसे रिहा कर दिया गया था। आसिम ने अपहरण के दौरान दी गई यातनाओं और भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ के बारे में पूछे गए सवालों के बारे में बताया। ब्लॉगर आसिम सईद ने आरोप लगाते हुए कहा है की उनसे भारतीय खुफिया एजेंसी रिसर्च एवं एनेलिसिस विंग (रॉ) के साथ संबंधों के बारे में पूछा।

ये भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश: स्विस जोड़े की पिटाई से आगरा हुआ शर्मसार, सुषमा ने तलब की रिपोर्ट

इस दौरान उनको बेहद यातनाएं दी गई। बता दें कि जनवरी में पांच सोशल मीडिया एक्टिविस्टस का अपहरण कर लिया गया था जिनमें से एक आसिम भी थे। आसिम फेसबुक पर एक पेज चलाते हैं जिसका नाम मोची है। इस पेज को पाकिस्तानी सेना का आलोचक माना जाता है जिसके मुताबिक पाकिस्तानी सेना प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर देश में शासन कर रही है।

ये भी पढ़ें- दिल्ली: पति ने ही की पत्नी की हत्या, पुलिस को झूठी कहानी बताकर किया गुमराह

आसिम ने बीबीसी को दिये बयान में बताया कि कुछ सादे कपड़े में आए लोगों ने उन्हें जबरदस्ती कार में बिठा लिया और फिर उनके साथ मारपीट की, उसके बाद एक आदमी ने पूछा कि मालूम है तुमको क्‍यों पकड़ा गया? जब मैंने कहा कि मुझे नहीं पता तो उसने मुझे एक थप्‍पड़ मारा। उसके बाद मेरे फेसबुक पेज 'मोची' के बारे में बात करने लगा। इतना ही नहीं उनसे पूछा गया कि क्या वो रॉ से जुड़े हैं, क्या रॉ ने उन्हें धन मुहैया कराया है?आसिम से यह भी पूछा गया कि वह पाकिस्तानी सेना का आलोचक क्यों है?

खेती और रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मशीनों और जुगाड़ के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top