यूपी पुलिस : चोटी कटने की घटना एक अफवाह है,इस पर कतई ध्यान न दें  

यूपी पुलिस : चोटी कटने की घटना एक अफवाह है,इस पर कतई ध्यान न दें   यूपी पुलिस  

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बीते कुछ दिनों से आ रही चोटी काटने या कटने की ख़बरों का खंडन करते हुए यूपी पुलिस ने समाज के लोगों से एक गुजारिश की है। यूपी पुलिस ने ट्विटर के माध्यम से लोगों से अपील की है कि "आप सभी लोग इस अफवाह को फैलाने या फैलने से रोके। पुलिस ने कहा है कि इस तरह की किसी भी खबर में कोई सत्यता नहीं है।

ये भी पढ़ें-योगी सरकार के फरमान से फूल कारोबारी संकट में

उत्तर प्रदेश पुलिस ने लोगों से आग्रह किया है कि , इस प्रकार की अफवाह फैलाने वालों के बारे में तत्काल पुलिस को सूचना दें एवं कानून को अपने हाथ में न लें ।

इस कृत्य में कोई संगठित गैंग संलिप्त नहीं है। ग्रामीण/शांति सुरक्षा समितियों / विशेष पुलिस अधिकारी के माध्यम से अफवाह का खंडन किया जाये।

जनपदीय पुलिस ऐसे शरारती तत्वों के विरुद्ध उचित वैधानिक कार्यवाही करें।

जनपदीय पुलिस सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक करें एवं इस प्रकार की भ्रामक खबर का खंडन करें ।

जनपदीय प्रशासन /पुलिस थाना /चौकी स्तर पर आयोजित कर सोशल मीडिया पर सक्रिय युवकों / डिजिटल वालंटियर के माध्यम से इस खबर का खंडन करें ।

पुलिस के इस प्रकार के सन्देश के बाद भी लोगों द्वारा अफवाह फैलाने का दौर अभी भी जारी है । गाँव कनेक्शन को रात ठीक नौ बजे छिल्ला ललितपुर उत्तर प्रदेश से एक एक व्यक्ति धीरेन्द्र राजपूत द्वारा गाँव में चोटी कटने की खबर दी गयी ।

ये भी पढ़ें-जहां पिछले साल सबसे ज्यादा हुईं डेंगू से मौतें, वहां इस महिला ने उठाया जिंदगियों को बचाने का बीड़ा

गाँव कनेक्शन ने आई इस खबर में अपनी पड़ताल के माध्यम से उस महिला के संबंध में खबर देने वाले व्यक्ति से कई सवाल भी किये। जिसका सही जवाब न मिलने के कारण हमने उस व्यक्ति को भी पुलिस द्वारा दी गयी जानकारी के बारे में बताया। ताकि वो व्यक्ति भी इस प्रकार की अफवाह को फैलने या फैलाने से खुद को रोक सके।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिएयहांक्लिक करें।

Share it
Top