डीयू-जेएनयू पर मुखर हुए लोग बीफ फेस्ट पर खामोश क्यों : आदित्यनाथ

डीयू-जेएनयू पर मुखर हुए लोग बीफ फेस्ट पर खामोश क्यों : आदित्यनाथयोगी आदित्यनाथ

लखनऊ (भाषा)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वध के लिये पशु बाजार से जानवर खरीदने पर रोक लगाये जाने के विरोध में केरल में ‘बीफ फेस्ट' के आयोजन पर सवाल उठाये।

योगी ने कल रात भाजपा के सहयोगी संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (अभाविप) द्वारा आयोजित अभिनन्दन समारोह में कहा ‘‘दिल्ली विश्वविद्यालय और जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय की घटनाओं पर बोलने वाले इस घटना (बीफ फेस्ट) पर मौन क्यों हैं?'' उन्होंने कहा कि देश में हर षड्यंत्र पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् मुखर होकर सामने आती रही है। राष्ट्रवाद इस देश की मूल परम्परा रही है और अभाविप इसे शुरु से ही अपना रही है।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

योगी आदित्यनाथ ने गत 19 मार्च को सत्ता में आते ही गौवध पर सख्ती से रोक लगाते हुए अवैध रुप से संचालित किये जा रहे सभी बूचडखानो को बंद करा दिया था। केंद्र सरकार द्वारा लगायी गयी पाबंदी के विरोध में केरल में बीफ फेस्ट (गोमांस भोज) आयोजित किये गये थे। युवक कांग्रेस के एक कार्यकर्ता और उसके साथियों ने कन्नूर में कथित रुप से सार्वजनिक तौर पर एक बछडे का वध कर दिया था। केरल पुलिस ने बाद में युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया था।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.