किसानों को मिलेगी 3 हजार रुपए पेंशन, पीएम ने रांची से की शुरुआत

किसानों को मिलेगी 3 हजार रुपए पेंशन, पीएम ने रांची से की शुरुआत

रांची। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को किसान मानधन योजना सहित कई विकास योजनाओं की शुरुआत की। किसान मानधन योजना के तहत किसानों को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद 3000 रुपये हर महीने पेंशन मिलेगी। पीएम मोदी ने झारखंड के रांची में एक कार्यक्रम में कुछ किसानों को पेंशन का कार्ड भी सौंपा। इनमें देश के कई राज्यों के किसान शामिल रहे।

इसके अलावा पीएम मोदी खुदरा दुकानदार व पेंशन योजना, प्रधानमंत्री वन धन योजना की भी शुरुआत की। साथ ही देश भर में बनने वाले 462 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय की शुरुआत भी की गई। झारखंड में 69 एकलव्य स्कूल बनेंगे। केंद्र सरकार ने 23 स्कूलों के लिए 524 करोड़ रुपये की स्वीकृति दे दी है।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, ''आज झारखंड की पहचान में एक और बात जोड़ने का मुझे सौभाग्य मिला है। आपके झारखंड की नई पहचान बनने जा रही है कि ये वो राज्य है जो गरीब और आदिवासियों के हितों की बड़ी योजनाओं का लॉन्चिंग पैड है। झारखंड से ही दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ एश्योरेंस स्कीम- 'आयुष्मान भारत' की शुरुआत हुई थी। पूरे देश के करोड़ों किसानों को पेंशन सुनिश्चित कराने वाली प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना की शुरुआत भी झारखंड से हो रही है। देश के करोड़ों व्यापारियों और स्व-रोजगारियों के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना की शुरुआत भी झारखंड से हो रही है।''

पीएम ने कहा, ''आज मुझे साहिबगंज मल्टी-मॉडल टर्मिनल का उद्घाटन करने का सौभाग्य भी मिला है। ये सिर्फ एक और प्रोजेक्ट नहीं है, बल्कि इस पूरे क्षेत्र को परिवहन का नया विकल्प दे रहा है। ये जल मार्ग झारखण्ड को पूरे देश से ही नहीं, बल्कि विदेश से भी जोड़ेगा। इस टर्मिनल से यहां के आदिवासी भाई-बहनों को, यहां के किसानों को, अपने उत्पाद अब पूरे देश के बाजारों में और आसानी से पहुंच पाएंगे। पीएम ने आगे कहा, इसी तरह, जल मार्ग के कारण, उत्तर भारत से झारखंड समेत पूर्वोत्तर के राज्यों तक अनाज पहुंचाना और भी सरल हो जाएगा।''

पीएम मोदी ने कहा, ''चुनाव के समय मैंने आपसे कामदार और दमदार सरकार देने का वादा किया था। एक ऐसी सरकार जो पहले से भी ज्यादा तेज गति से काम करेगी। एक ऐसी सरकार जो आपकी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए पूरी ताकत लगा देगी। बीते 100 दिन में देश ने इसका ट्रेलर देख लिया है।


पीएम ने कहा, ''हमारा संकल्प है, हर घर जल पहुंचाने का। आज देश जल जीवन मिशन को पूरा करने के लिए निकल पड़ा है। हमारा संकल्प है, आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड़ाई का। पहले 100 दिन में ही आतंक निरोधी कानून को और मजबूत कर दिया गया है।''

क्‍या है किसान मानधन योजना?

18 से 40 वर्ष के उम्र के किसानों को उम्र के आधार पर 55 से 200 रुपये प्रति माह पेंशन निधि में अंशदान जमा करना होगा। किसानों को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद 3000 रुपये हर महीने पेंशन मिलेगी। किसान की मृत्यु होने पर आश्रित पति या पत्नी को पारिवारिक पेंशन के तौर पर 50 फीसदी मासिक पेंशन मिलेगी।

पीएम वन धन योजना

योजना गांव के उत्पादों को अंतर्राष्ट्रीय बाजार देने के लिए लांच होगी। योजना के तहत 27 राज्यों के 307 जनजातीय जिलों में बसे 5.5 करोड़ जनजाति लोगों के सशक्तिकरण की शुरुआत होगी। हर साल 30 हजार सेल्फ हेल्प ग्रुप बनाए जाएंगे। सरकार हर वन धन विकास केंद्र को 15 लाख की वित्तीय सहायता देगी। पैकेजिंग और मार्केटिंग रिटेल नेटवर्क के जरिये होगी। निजी क्षेत्र की भागीदारी भी होगी। झारखंड के वनोत्पाद को 190 देशों में ऑनलाइन बेचा जाएगा।

खुदरा दुकानदार व स्वरोजगार पेंशन योजना

इसमें 18 से 40 साल के व्यापारी व दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन किया जायेगा और 60 साल की उम्र होने पर हर महीने तीन हजार रुपये का पेंशन दिया जाएगा।

ये भी देखिए : प्रधानमंत्री किसान पेंशन योजना के 3000 रुपए कैसे पाएं? पूरी जानकारी,चाहिए होंगेे ये पेपर


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top