गुजरात Live: पीएम मोदी ने रो-रो फेरी प्रोजेक्ट का किया उद्घाटन, कहा- यह अनमोल उपहार पूरे हिन्दुस्तान के लिए

गुजरात Live: पीएम मोदी ने रो-रो फेरी प्रोजेक्ट का किया उद्घाटन, कहा- यह अनमोल उपहार पूरे हिन्दुस्तान के लिएगुजरात में पीएम मोदी

गुजरात। गुजरात चुनाव को लेकर सरगर्मियां बढ़ती जा रही हैं। बीजेपी और कांग्रेस ने इस राज्य में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी एक बार फिर गुजरात पहुंचे। यहां उन्होंने भावनगर के घोघा में रो-रो फेरी सर्विस की शुरुआत की।

पीएम मोदी आज घोघा के बाद भरुच जिले के वड़ोदरा में भी रैली करेंगे। बीते एक महीने में यह उनका तीसरा दौरा है। विधानसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा से पहले गुजरात में पीएम मोदी की संभवत: ये आखिरी रैली होगी।

घोघा में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ये फेरी सर्विस भारत ही नहीं दक्षिण पूर्व एशिया में अपनी तरह का पहला प्रोजेक्ट है। पीएम मोदी ने घोघा और दहेज के बीच 615 करोड़ रुपये की रोल-ऑन रोल ऑफ (रो-रो) फेरी सेवा के पहले चरण की आज शुरुआत की है।

मोदी ने कहा कि दुनिया में कोई 24 घंटे के 25 घंटे नहीं कर सकता। भारत सरकार ने आपके 8 घंटे को मगर 1 घंटे में बदल दिया। इस सर्विस के चलते जब अहमदाबाद जैसे इलाकों में ट्रैफिक कम होगा, तो उसका असर गुजरात के साथ-साथ मुंबई और दिल्ली पर भी पड़ेगा।

क्या है रो-रो फेरी परियोजना

सौराष्ट्र और दक्ष‍िण गुजरात के बीच अभी सड़क से सफर करने में कम से कम 10 घंटे लगते हैं, लेकिन, इसलिए समुद्र के रास्ते रो-रो परियोजना की शुरुआत की जा रही है। इस परियोजना से सौराष्ट्र और दक्ष‍िण गुजरात के बीच की दूरी सिर्फ 31 किमी हो जाएगी, जो यात्रियों के लिए होगा। इसका दूसरा चरण दो महीने में पूरा होगा और दोनों शहरों के बीच कार भी ले जाई जा सकेगी। मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए जनवरी 2012 में इस परियोजना की आधारशिला रखी थी।

मोदी ने बताए रो-रो फेरी सर्विस के फायदे

पीएम मोदी ने रो-रो फेरी सर्विस के फायदे भी बताए। उन्होंने कहा, "एक स्टडी कहती है कि सड़क के रास्ते सामान ले जाने में 1.5 रुपये, रेल के जरिये 1 रुपये और जलमार्ग से 20.25 पैसे लगते हैं। सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के बीच 12 हजार लोग यात्रा करते हैं। रो-रो फेरी सर्विस से 360 किमी की दूरी 31 किमी मे बदल जाएगी। एक फेरी 100 के लगभग कारे अपने साथ लेकर जा सकती है। इसका प्रभाव दिल्ली मुंबई के रास्तों पर भी पड़ेगा. गाड़ियों की संख्या कम होगी, रफ्तार बढ़ेगी।

ये भी पढ़ें:- मोदी सरकार किसानों को देगी एक और झटका, बढ़ेंगी ट्रैक्टर की कीमतें

Share it
Top