बेहतर सेवाओं के लिये 21 अप्रैल को पीएम मोदी करेंगे प्रशासनिक अधिकारियों को सम्मानित  

बेहतर सेवाओं के लिये 21 अप्रैल को पीएम मोदी करेंगे प्रशासनिक अधिकारियों को सम्मानित  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। फाइल फोटो

नई दिल्ली (भाषा)। डिजिटल भुगतान और फसल बीमा योजना सहित कई योजनाओं में बेहतर काम के लिए कार्मिक, जन शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय द्वारा कल लोक सेवा दिवस के अवसर पर आयोजित दो दिवसीय समारोह में चयनित अधिकारियों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सम्मानित करेंगे।

मंत्रालय की ओर से प्राप्त जानकारी के मुताबिक उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कल समारोह का उद्घाटन करेंगे और 21 अप्रैल को समापन सत्र में मोदी चयनित अधिकारियों को सम्मानित करेंगे। इसमें सरकार के प्राथमिकता वाले चिन्हित कार्यक्रमों का जिला एवं विभिन्न स्तरों पर नवोन्मेषी तरीके से असाधारण कार्ययोजना के साथ प्रभावी कार्यान्वयन करने वाले प्रशासनिक अधिकारियों को सम्मानित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी की विदेश यात्रा : पशुपालन, कृषि जैसे क्षेत्रों पर कई देश मिलकर करेंगे काम

लोक प्रशासन के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाओं के लिये चयनित अधिकारियों को हर साल 'लोकसेवा दिवस' के अवसर पर 'प्रधानमंत्री सम्मान' से पुरस्कृत किया जाता है। इस साल सरकार की प्राथमिकता वाली चार योजनाओं, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण एवं शहरी) और दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना को प्रभावी रूप से लागू करने वाले 11 चयनित अधिकारियों को सम्मानित किया जायेगा।

साथ ही एक पुरस्कार इन योजनाओं को लागू करने में बेहतर योगदान देने वाले केन्द्र या राज्य सरकार के किसी संगठन को दिया जायेगा। एक पुरस्कार उस जिले को मिलेगा, जिसमें इन योजनाओं को प्रभावी रूप से लागू किया गया हो। इस साल पहली बार एक नयी श्रेणी भी इस सम्मान में जोड़ी गयी है। इसमें केन्द्र सरकार में कार्यरत अतिरक्ति सचिव या संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी को सम्मानित किया जाएगा, जिसने व्यवस्थागत प्रक्रियाओं को आसान बनाने में क्रांतिकारी बदलाव के लिये बेहतर काम किया हो।

समारोह के दौरान कृषि, आवास, डिजिटल भुगतान और कौशल विकास पर संगोष्ठी और जिला स्तर पर प्रशासनिक बदलाव के क्रांतिकारी उपायों पर कार्यशालाएं आयोजित होंगी। इन्हें संबद्ध मंत्रालयों के मंत्री, नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत संबोधित करेंगे।

यह भी पढ़ें- लोग जानते हैं कि वे जब कुछ कहेंगे तो सरकार सुनेगी और करेगी, धीमे बदलाव के दिन गुजर गए: नरेंद्र मोदी

Share it
Top