2016-17 में बिजली उत्पादन 4.7 फीसदी बढ़ा

2016-17 में बिजली उत्पादन 4.7 फीसदी बढ़ाबिजली उत्पादन बढ़ा।

कोलकाता (आईएएनएस)। केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) के अनुसार इस वर्ष तापीय, जल, परमाणु एवं भूटान से आयातित बिजली के उत्पादन में 4.7 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है।

सीईए के अनुसार, 2015-16 में जहां देश में कुल 1,107.82 अरब यूनिट बिजली का उत्पादन हुआ, वहीं 2016-17 में यह बढ़कर 1,159.83 अरब यूनिट हो गया।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सीईए की ओर से जारी वक्तव्य में कहा गया है कि वर्ष 2016-17 के लिए कुल 1,178 अरब यूनिट बिजली उत्पादन का लक्ष्य रखा गया था, जो बीते वर्ष की तुलना में 6.38 फीसदी अधिक था। बीते वित्त वर्ष (2016-17) में तापीय विद्युत उत्पादन में 5.34 फीसदी की वृद्धि हुई, जबकि जल विद्युत उत्पादन में 0.77 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई।

सीईए के एक अधिकारी ने शनिवार को कहा, ''सिर्फ मार्च महीने में बिजली उत्पदान में 5.46 फीसदी की वृद्धि हुई, जो मार्च के लिए तय लक्ष्य से अधिक रहा।'' वक्तव्य में कहा गया है कि 2015-16 में बिजली उत्पादन में 5.64 फीसदी की वृद्धि हुई थी। बिजली मंत्रालय के मुताबिक, 2016-17 में बिजली का कुल उत्पादन मांग से 0.7 फीसदी कम रहा, जो बीते वर्ष 2.1 फीसदी से बेहतर रहा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top