Top

2012-2018 के बीच वन्यजीवों के अवैध शिकार के मामले में 9000 से ज्यादा लोग गिरफ्तार: प्रकाश जावड़ेकर

2012-2018 के बीच वन्यजीवों के अवैध शिकार के मामले में 9000 से ज्यादा लोग गिरफ्तार: प्रकाश जावड़ेकर

लखनऊ। वर्ष 2012-2018 के बीच वन्यजीवों के अवैध शिकार के मामले में नौ हजार से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने निचले सदन में अवैध शिकार के मामलों में पकड़े गए लोगों की संख्या को लेकर पूछे गये एक सवाल का जवाब में यह जानकारी दी।

यह भी पढ़ें- रेनू और किशन: मरने के लिए छोड़ दी गई बाघिन को मिली नई ज़िंदगी और एक नया दोस्त

उन्होंने कहा, "राज्य के वन और पुलिस अधिकारियों से प्राप्त जानकारी के आधार पर वन्यजीव अपराध नियंत्रण बोर्ड (डब्ल्यूसीसीबी) के उपलब्ध रिकॉर्ड के अनुसार, 2012 से 2018 के बीच 9,253 लोग वन्यजीवों के अवैध शिकार के मामलों में गिरफ्तार किए गए हैं।"

राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए), जो बाघों और तेंदुओं का रिकॉर्ड रखता है उनके आंकड़ों के मुताबिक, 2012 और 2018 के बीच अवैध शिकार के 141 मामले सामने आए हैं, जबकि 84 मामलों में जब्ती की कार्रवाई की गई। आंकड़ों के अनुसार, सबसे ज्यादा अवैध शिकार और जब्ती की घटनाएं मध्य प्रदेश में हुई। यहां 31 और 12 मामले दर्ज किए गए।

यह भी पढ़ें- असहाय हाथियों की देखरेख का ये है अनूठा ठिकाना

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.