रसोई गैस में लगी महंगाई की आग, घरेलू सिलेंडर हुआ 94 रुपए महंगा

रसोई गैस में लगी महंगाई की आग, घरेलू सिलेंडर हुआ 94 रुपए महंगाएक नवंबर से रसोई और कमर्शियल गैस सिलेंडर के दामों में बदलाव

लखनऊ। पिछले तीन महीने में रसोई गैस की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी होने पर आम आदमी की जेब पर लगातार बोझ बढ़ता जा रहा है। 31 अक्टूबर को रसोई और कमर्शियल गैस की नई कीमतें जारी हुई, जिसने लोगों की कमर ही तोड़ दी। एक नवंबर से घरेलू सिलेंडर 93 रुपये 50 पैसे और कमर्शियल सिलेंडर 146 रुपये 50 पैसे महंगा हो गया। छह महीने के बाद रसोई गैस की कीमतों में भारी इजाफा हुआ है।

एक नवंबर से रसोई और कमर्शियल गैस सिलेंडर के दामों में बदलाव होने से लोगों को गैस लेने के लिए अधिक दाम चुकाना पड़ेगा। 31 अक्टूबर तक 696 रुपये में मिलने वाला 14.2 किलो का सिलेंडर अब एक नवंबर से 789 रुपये 50 पैसे में मिलेगा। इसी प्रकार कमर्शियल सिलेंडर अभी तक 1243 रुपये में मिलता था, अब वह 1389 रुपये 50 पैसे में मिलेगा। कीमतें बढ़ने का असर निम्न व मध्यम वर्गीय परिवारों पर अधिक पड़ेगा। शायद यह पहला मौका है, जब एकमुश्त 93 रुपये की वृद्धि हुई है।

ऑल इंडिया एलपीजी फेडरेशन के सचिव केपी मिश्र का कहना है, "एक नवंबर से घरेलू और कमर्शियल गैस महंगी हो जाएगी। अक्टूबर महीने तक घरेलू सिलेंडर पर 203 रुपये 10 पैसे सब्सिडी मिलती थी, एक नवंबर से 292 रुपये दो पैसे सब्सिडी मिलेगी।" उन्होंने कहा कि छह महीने पहले रसोई गैस 93 रुपये और कमर्शियल गैस 156 रुपये महंगी हुई थी। उसके बाद इस महीने बढ़ोतरी हुई है।

कामर्शियल सिलेंडरों की बढ़ेगी डिमांड

सब्सिडी बंद होने के बाद कुकिंग गैस सिलेंडर (14.2 किग्रा) और कामर्शियल सिलेंडर (19 किग्रा) की कीमत में अधिक अंतर नहीं रहेगा। माना जा रहा है कि अगले साल मार्च तक सब्सिडी और कामर्शियल सिलेंडर की कीमत का अंतर खत्म हो जाएगा और दुकानदार दुकानों पर घरेलू गैस के बजाय कामर्शियल गैस का इस्तेमाल करना पसंद करेंगे। इससे कामर्शियल सिलेंडरों की डिमांड बढ़ने का उम्मीद है, जिससे सरकारों का राजस्व भी बढ़ेगा। कारण, कुकिंग गैस सिलेंडर पर जीएसटी पांच फीसदी और कामर्शियल गैस सिलेंडर पर जीएसटी 18 फीसदी है।

तीन माह में घरेलू गैस 141 रुपये 50 पैसे महंगी हुई

पिछले तीन महीने में रसोई गैस 141 रुपये 50 पैसे महंगी हो गई है। कमर्शियल सिलेंडर 223 रुपये 50 पैसे महंगा हो गया है। एक सितंबर को घरेलू गैस 648 रुपये और कमर्शियल सिलेंडर 1166.50 रुपये था, जो एक अक्टूबर को बढ़कर 696 रुपये (14.2 किलो) और 1243.00 (19 किलो) रुपये हो गया था।

रसोई गैस के दाम में इस तरह से हो रही है बढ़त

  • माह------------- रसोई गैस (रुपये में) ------कामर्शियल सिलेंडर (रुपये में)
  • जनवरी ----------637.50 -------------------- 1244
  • फरवरी ----------704.50 --------------------- 1348
  • मार्च -------------791 --------------------------1497
  • अप्रैल ------------776.50 ----------------------1478
  • मई ---------------683.50 ---------------------1322
  • जून --------------606 --------------------------1186
  • जुलाई ------------614 -------------------------1104.50
  • अगस्त -----------573.50 ---------------------1053
  • सितंबर -----------648------------------------ 1166.50
  • अक्तूबर ----------696 ------------------------1243
  • नवंबर ----------789.50 -----------------------1389.50

ये भी पढ़ें:- इस तरीके से करिए रसोई गैस का भुगतान, नहीं पड़ेगा महंगा

यह भी पढ़ें- जीएसटी का गणित अभी भी नहीं समझ पा रहे अनाज व्यापारी

Share it
Top