मन की बात में प्रधानमंत्री मोदी ने मुबारकपुर के लोगों को दी बधाई, गाँव कनेक्शन ने छापी थी ख़बर

मन की बात में प्रधानमंत्री मोदी ने मुबारकपुर के लोगों को दी बधाई, गाँव कनेक्शन ने छापी थी ख़बरप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों की यात्रा के दूसरे पड़ाव में आज अमेरिका पहुंच गये हैं। जहां उनका गर्मजोशी के साथ स्‍वागत किया गया। इधर पीएम मोदी आकाशवाणी से प्रसारित होने वाले मन की बात कार्यक्रम के जरिये देश की जनता को संबोधित किया। संबोधन में मोदी ने गाँव कनेक्शन की प्रमुखता से छापी गई खबर "एक ऐसा गाँव जहां गाँववालों ने अपने पैसे से बनवाया शौचालय, लौटाई 17.5 लाख की सरकारी मदद" का किया जिक्र।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को रथ यात्रा की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, भगवान जगन्‍नाथ गरीबों के देवता हैं। भगवान जन्नाथ रथ यात्रा के शुभअवसर पर देश के तमाम जनता को शुभकामनाएं और भगवान जगन्नाथ के श्रीचरणों में मेरा प्रणाम। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रमजान की चर्चा करते हुए कहा कि यह रमजान का पवित्र महीना है। भारत विविधताओं में एकता का देश है। मैं इस अवसर पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं देता हूं।

एक ऐसा गाँव जहां गाँववालों ने अपने पैसे से बनवाया शौचालय, लौटाई 17.5 लाख की सरकारी मदद

बिजनौर के मुबारकपुर काला गाँव के ग्रामीणों द्वारा सरकार को वापस किया गया चेक।

मन की बात में गाँव कनेक्शन की छपी खबर का जिक्र

बिजनौर के मुबारकपुर काला गाँव में लोगों ने अपने पैसे से सार्वजनिक शौचालय बनवाए हैं। वहीं इस काम के लिए गाँव वालों ने 17.5 लाख रुपये की सरकारी मदद लेने से भी इंकार कर दिया। यह खबर गाँव कनेक्शन ने की थी। पीएम मोदी ने मन की बात में बिजनौर जिले के एक गाँव मुबारकपुर काला का जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा, मैं खुले में शौच से मुक्त हुए पांच राज्यों के प्रशासन और जनता को धन्यवाद देता हूं। स्वच्छता की चर्चा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, आज स्वच्छता एक सरकारी कार्यक्रम नहीं रहा, बल्कि जन आंदोलन बन गया है।

इमरजेंसी को भुलाया नहीं सकता: मोदी

मोदी ने कहा, प्रकाश त्रिपाठी जी ने हमें लिखा है कि लोकतंत्र के प्रति नित्य जागरूकता जरूरी होती है। श्री प्रकाश त्रिपाठी ने इमरजेंसी को एक काला खंड बताया है। मोदी ने कहा, वह ऐसी काली रात थी, जिसे कोई भारतवासी भुला नहीं सकता है। देश को जेल में बदल दिया गया था। जयप्रकाश नारायण जैसे लोगों को जेल में बंद कर दिया गया था। अखबारों को पूरा बेकार कर दिया गया था। पत्रकार उस काले कालखंड के प्रति जागरुकता बढ़ाने का काम करते रहें हैं।

अटल जी ने अपनी कविता में उस मन:स्थित का वर्णन किया है। झुलसा जेठ मास...एक बरस बीत गया। सीखचों में सिमटा जग.. लोकतंत्र के प्रेमियों ने बड़ी लड़ाई लड़ी है और भारत जैसे विशाल देश के लोगों ने चुनाव में इस लोकतंत्र को सशक्त कर दिया।

योग से पूरा विश्व एक धागे में बंध गया: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, योग से पूरा विश्व एक धागे में बंध गया है। योग विश्व को जोड़ने का कारण बन गया है। अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस के अवसर पर चीन में और दुनियाभर में योग का अभ्यास किया गया। पेरू, अफगानिस्तान, सिंगापुर, यूएन में योग दिवस मनाया गया। यूएन ने इस अवसर पर 10 स्टैंप जारी किए। उन्‍होंने कहा, पहली बार लखनऊ में बारिश में योग करने का अवसर प्राप्त हुआ।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top