बिहार के बाढ़ पीड़ितों को पीएम नरेंद्र मोदी ने दिए 500 करोड़, किया हवाई सर्वेक्षण

बिहार के बाढ़ पीड़ितों को पीएम नरेंद्र मोदी ने दिए 500 करोड़, किया हवाई सर्वेक्षणबाढ़ क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार।

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बिहार के बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने 500 करोड़ रुपए की तत्काल सहायता की घोषणा की। पीएम मोदी ने पूर्णिया में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ क्षतिपूर्ति, राहत और पुनर्वास के कार्यों की विस्तार से समीक्षा की। समीक्षा के बाद प्रधानमंत्री ने राज्य को हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया। उन्होंने 500 करोड़ रुपए की तुरंत सहायता की भी घोषणा की।

प्रधानमंत्री ने नुकसान के आकलन के लिए तुरंत ही एक केंद्रीय टीम भेजने का भी आश्वासन दिया है। उन्होंने निर्देश दिया कि किसानों के फसल बीमा के संबंध में क्लेम का तुरंत आंकलन करने के लिए बीमा कम्पनियां अपने पर्यवेक्षक तत्काल प्रभावित क्षेत्रों में भेजें, जिससे किसानों को शीघ्र ही राहत पहुंचाई जा सके।

ये भी पढ़ें- बाढ़ की तस्वीरों को देखकर इग्नोर करने वाले शहरी हिंदुस्तानियों देखिए, बाढ़ में जीना क्या होता है

बाढ़ से प्रभावित सड़कों की मरम्मत के लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय को उपयुक्त कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया गया है। बाढ़ से प्रभावित विद्युत इंफ्रास्ट्रक्चर की शीघ्र बहाली के लिए भी केन्द्र, राज्य सरकार की हर संभव मदद करेगा। प्रधानमंत्री राहत कोष से प्रत्येक मृतक के परिवार को 2 लाख रुपए और गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को 50 हजार रुपए की दर से सहायता दी जाएगी।

ये भी पढ़ें- बिहार में बाढ़ से लाखों लोग बेघर हुए हैं, लोगों को आपकी जरूरत है , आप भी बनें मददगार

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की हाल की भारत यात्रा के दौरान उनमें और पीएम मोदी में इस बात पर सहमती बनी है कि सप्तकोसी हाई डैम परियोजना और सुनकोसी storage cum diversion scheme की विस्तृत प्रोजेक्ट रिपोर्ट शीघ्र तैयार की जायेगी। दोनों देश सीमावर्ती इलाकों में जलभराव और बाढ़ नियंत्रण पर भी आपस में समन्वय और मजबूत करेंगे। इससे पूरे क्षेत्र में बाढ़ की समस्या से काफी राहत मिलेगी।

Share it
Top