Top

सपा-रालोद-बसपा गठबंधन को शराब बताकर प्रधानमंत्री ने लोकतंत्र का मजाक उड़ाया: कांग्रेस

कांग्रेस ने कहा कि यह सिर्फ गठबंधन का नहीं बल्कि देश के लोकतंत्र का मजाक उड़ाने जैसा था।

गाँव कनेक्शनगाँव कनेक्शन   28 March 2019 11:02 AM GMT

सपा-रालोद-बसपा गठबंधन को शराब बताकर प्रधानमंत्री ने लोकतंत्र का मजाक उड़ाया: कांग्रेस

लखनऊ (भाषा)। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सपा-रालोद-बसपा गठबंधन को शराब कहकर मजाक बनाने की कड़ी निंदा की है। कांग्रेस ने कहा कि यह सिर्फ गठबंधन का नहीं बल्कि देश के लोकतंत्र का मजाक उड़ाने जैसा था। इस देश का लोकतंत्र राजनीतिक दलों को गठबंधन करने का अधिकार देता है। पीएम मोदी इस टिप्पणी के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए।

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कटाक्ष करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी फ्लॉप फिल्मों के फ्लॉप अभिनेता की तरह बोल रहे हैं। उन्हें इसके बजाय अपने काम का हिसाब देना चाहिए। सुरजेवाला ने कहा, प्रधानमंत्री ने राजनीतिक पार्टियों की शराब से तुलना कर पूरे देश और लोकतंत्र का मजाक उड़ाया है। उन्हें अपने शब्द वापस लेने चाहिए और फिर माफी मांगनी चाहिए।

सुरजेवाला ने कहा, मायावती और दूसरे नेताओं से इनका विरोध हो सकता है। लेकिन प्रधानमंत्री द्वारा ऐसी भाषा का प्रयोग भारत की संस्कृति से भी नहीं मेल खाती। सुरजेवाला ने आगे कहा, 'मोदी जी को दिन-रात राहुल गांधी जी और कांग्रेस के सपने आते हैं। प्रपंच, ढोंग और स्वांग के बजाय मुद्दों की बात करें। प्रधानमंत्री जी, आप कांग्रेस को गाली दीजिए लेकिन देश के गरीब का मजाक मत उड़ाइए। आप न्याय का मजाक मत बनाइए।'



गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने मेरठ की एक चुनावी सभा में सपा, रालोद और बसपा पर निशाना साधते हुए इनके गठबंधन को 'शराब' कहा था। उन्होंने कहा था कि सपा के स, रालोद के र और बसपा के ब से शराब बनता है, जो सेहत के लिए हानिकारक है।

पढ़ें- मेरठ में PM मोदी बोले- 'मेरे पास अपना कुछ नहीं, जो कुछ है वो देश का'

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.